Sankashti Chaturthi Upay: आज गणेश चतुर्थी है। आज फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है। आज के दिन भगवान गणेश की पूजा की जाती है। मान्यता है कि इस दिन पूजा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। गणेश जी को प्रथम देव माना गया है ऐसे में हर शुभ कार्य से पहले गणेश जी का नाम लिया जाता है और उनकी पूजा की जाती है। कहा जाता है कि इस दिन जो व्यक्ति व्रत करता है उस व्यक्ति के सभी दुख विघ्नहर्ता हर लेते हैं। इस दिन कुछ उपाय किए जाते हैं जिनके करने से जीवन की बाधाएं खत्म हो जाती है।

संकष्टी चतुर्थी पर करें ये उपाय:

1. इस दिन केले के पत्ते में रोली से त्रिकोण बनाएं। इसके आगे दीपक रख दें। इसके बाद बीच में मसूर की दाल और लाल मिर्च रख दें। फिर अग्ने सखस्य बोधि नः मंत्र का जाप करें।

2. पूजा करते समय गौघृत में सिंदूर मिलाएं। फिर गणेश जी के आगे दीपक जलाएं। उन्हें गेंदे के फूल चढ़ाए और गुड़ का भोग लगाएं। ऐसा करने से व्यक्ति के सभी कार्य संपन्न होते हैं।

3. जो गणपति जी नीम की जड़ में उभरे हैं उनके समक्ष हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा मंत्र का जाप करें। फिर उन्हें लाल चंदन, लाल रंग के पुष्प अर्पित करें। इसे मध्य पात्र में स्थापित करें। फिर उपरोक्त मंत्र का जाप रोजाना करें। इसे व्यक्ति के पास बुरी शक्तियां नहीं आएंगी और उसके शत्रु भी शांत हो जाएंगे।

4. ॐ गं गौं गणपतये विघ्न विनाशिने स्वाहा की माला 21 बार जपें। इससे व्यक्ति की सभी बाधाएं दूर होती हैं और हर काम आसानी से हो जाता है।  

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।' 

Edited By: Shilpa Srivastava