सामान्य फल- समय अनुकूल है। परिश्रम से अर्थ प्राप्ति में भाग्य साथ देगा। मान प्रतिष्ठा को नया आकार मिलेगा और स्थिति से संतुष्ट होंगे। सुखद समय और भाग्योदयकारी घटना का आभास भी होगा। वस्तु विशेष अथवा वस्त्राभूषण आदि की प्राप्ति होगी। अपने कठिन परिश्रम के बूते आप आगे बढ़ पाएंगे और सफलता आपके कदम चूमेगी। आपके लिए सलाह है कि भाग्यशाली बने रहने के लिए शिव जी का दर्शन ध्यान करते रहें।  आगे बढ़ने और कुछ हटकर करने की प्रबल इच्छा आपको शक्ति प्रदान करेगी। 

आपकी कार्यशैली- आप अपने चारों तरफ हो रहे परिवर्तनों के बारे में भी सचेत रहेंगे और आवश्यकतानुसार अपनी योग्यता में वृद्धि करने का महत्वपूर्ण कदम भी उठाएंगे। परिश्रम से अधूरे कार्य पूरे हो जायेंगे। किसी विदेशी मैत्री और सम्पर्क से नये लाभदायक कार्य की व्यवस्था संभव होगी। प्रगति के नये अवसर, प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी, अतिथि समागम, शत्रु पक्ष निर्बल होकर परास्त होंगे। कारोबारी लिहाज से आप पाएंगे कि आप बड़े लक्ष्यों और चुनौतियों के लिए कमर कस कर तैयार और सक्षम भी हैं। इसलिए आगे बढ़े और बताएं कि आपकी कार्यशैली कुशल और प्लांड है।

प्रेम रोमांस- शुरूआत में तो अपनी सच्ची भावनाओं को जुबान पर लाने के लिए आपको बहुत प्रयास करना होता है इसलिए आपको अपनी इच्छानुसार प्रेम संबंध बनाने में बहुत अधिक समय लगता है। अपनी खुद की और अपने पार्टनर की भावनाओं का ध्यान रखना आम तौर पर चुनौतीपूर्ण होता है। 

बिजनेस और आर्थिक स्थिति- अर्थ संकट की पूर्ति के लिए प्रयास सफल रहेंगे । जो हुआ उसे ईश्वर की इच्छा मान कर भाग्य पर छोड़ दें। आराधना पर विश्वास बढ़ेगा। व्यवसाय और आजीविका में तनाव कम होंगे और नये अनुबंध प्राप्त होंगे। अच्छे समय का सदुपयोग करें। आपमें से जिन लोगों की रूचि जमीन-जायदाद में है उन्हें अपने इस बेहतर हालात का फायदा उठाना चाहिए। पूर्वनिर्धारित योजना के साथ मेहनत और सतर्कता रखने से आपके लिए आगे बढ़ने के मौके मौजूद हैं। यदि नौकरी में हैं तो खुद की शर्तों पर काम करने में आप सक्सेस रहेंगे। ये किस्मत नहीं आपकी मेहनत का हक होगा।

स्वास्थ्य- आप स्वास्थ्य के मामले में सतर्क रहेंगे भोजन में कॉलेस्ट्रोल का ध्यान रखना चाहिए। शरीर एक सच्चे दोस्त की तरह आपका साथ देगा।

आश्चर्यजनक- आमतौर पर आप घरेलू वातावरण में छोटी चीजों के बजाय बड़ी चीजों को पसंद करते हैं। आपके जीवन के हर क्षेत्र में बेहतर रहने की संभावना है।। 

चेतावनी- अपनी तेज गति से धोखे में न आए और उतावलापन न करें। आपके लिए इस विरोधाभास को हल करना जरूरी है।

शुभ दिन- सोमवार आैर गुरूवार।

शुभ रंग- सफेद, क्रीम और पीला।

-पंडित विजय त्रिपाठी विजय ​ website- www.astroworldindia.com, email- pt.vijaytripathi@gmail.com

Posted By: Molly Seth