Chaitra Navratri 2021: चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल से शुरू होने वाली है। इस दौरान आदि शक्ति के नौ स्वरूपों की पूजा की जाती है। इन 9 दिनों तक भक्त मां को प्रसन्न करने के लिए व्रत करते हैं। फिर नौ दिन बाद व्रत का पारण करते हैं। शास्त्रों के अनुसार, नवरात्रि में मां दुर्गा के स्वागत के लिए घर पर विशेष प्रकार की तैयारी की जाती है। शास्त्रों के अनुसार, नवरात्रि से पहले कुछ काम करने बेहद विशेष होते हैं जिनकी जानकारी हम आपको यहां दे रहे हैं।  

1. नवरात्रि आने से पहले घर को अच्छे से साफ करें। इससे घर में मां लक्ष्मी का वास होता है। अगर घर में गंदगी रहे को दरिद्रता आती है।

2. वास्तु के अनुसार, कलश स्थापना करते हैं तो उस स्थान पर माता रानी की चौकी के पास हल्के रंग का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे घर में सकारात्मकता आती है।

3. कोई भी शुभ कार्य करने से पहले स्वास्तिक चिन्ह बनाना चाहिए। ऐसे में नवरात्रि शुरू होने से पहले स्वास्तिक का निशान जरूर बनाएं।

4. रसोई से सभी तामसिक चीजें यानी लहसुन, प्याज चीजें बाहर निकाल दें। वास्तु के नियमानुसार, रसोई घर को हमेशा साफ और स्वच्छ रखना चाहिए। 

5. शास्त्रों के अनुसार, मां का स्थान दक्षिण दिशा में होता है। ऐसे में पूजा करते समय आपका मुख दक्षिण या पूर्व दिशा की तरफ होना चाहिए। इससे चेतना जागृत होती है। साथ ही मानसिक शांति प्राप्त होती है।

6. नवरात्रि शुरू होने से पहले उत्तर-पश्चिम दिशा कोने को भी ठीक करें। ऐसा करने से मन की शांति बनी रहती है। इस स्थान का कारक चंद्रमा होता है। 

डिसक्लेमर

'इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी। '  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप