संदीपा मूल रूप से श्रीनगर (कश्मीर) की हैं। फिल्मों में आने से पहले वह मॉडलिंग करती थीं। तभी उन्हें राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म में ब्रेक मिला और उन्होंने बॉलीवुड में कदम रखा लेकिन इस फिल्म के बाद अचानक उन्होंने दो साल का ब्रेक ले लिया। वह बताती हैं, 'मैं उस समय इंटरनेशनल म्यूजिकल ड्रामा 'वेस्ट साइड स्टोरी' कर रही थी। यह शेक्सपीयर के नाटक रोमियो और जूलियट से प्रेरित है। शो करने से मुझे ग्लोबल एक्सपोजर मिला। हमने इसके सौ से ज्य़ादा शो किए हैं। ड्रामा में ब्रेक के दौरान मैंने 'दबंग 2' की। उसमें मेरा कैमियो था। अगले ब्रेक में 'हीरोपंती' की। लोगों को मेरा काम पसंद आ रहा था। इसलिए मुझे लगा कि फिल्मों पर फोकस करना चाहिए। कॉमेडी की तमन्ना पूरी हुई बीते दिनों रिलीज'ग्लोबल बाबा' में संदीपा एक तेजतर्रार पत्रकार की भूमिका में नजर आई थीं। 'सेवन ऑवर्स टु गो' में उन्होंने पुलिस अधिकारी का रोल प्ले किया। इसमें उन्हें धुआंधार ऐक्शन करने का भी मौका मिला। उन्होंने वायकॉम 18 के साथ तीन फिल्मों का अनुबंध किया है। पहली फिल्म 'गोलू और पप्पू' है। संदीपा बताती हैं, 'यह कॉमेडी फिल्म है। उसमें कुणाल राय कपूर और वीर दास मेरे को-स्टार हैं। यह अंग्रेजी फिल्म 'डंप एंड डमर' से प्रेरित है। मैं काफी समय से कॉमेडी करने की इच्छुक थी। इस फिल्म से यह तमन्ना पूरी हो रही है। स्पैनिश फिल्म कर रही हूं संदीपा निर्देशक आलेजेंद्रो एमेनबर की स्पैनिश फिल्म में काम कर रही हैं। फिल्म 'गुजारिश' उनकी ही फिल्म से प्रेरित थी। फिल्म की शूटिंग नवंबर में शुरू होगी। यह ह्यूमन ड्रामा है। यह फिल्म मुझे अपने म्यूजिकल शो के कारण मिली। बार्सिलोना में हमने अपना शो किया था। वहीं आलेजेंद्रो आए थे। उन्होंने मुझसे संपर्क किया और मुझे ऑडिशन के लिए बुलाया। उसके बाद मेरा चयन हो गया। आलेजेंद्रो को न कहना जिंदगी की सबसे बडी भूल होती। फिल्म के लिए मैं स्पैनिश भाषा भी सीख रही हूं।' नहीं भूलती वो बातें 'दबंग 2' का हिस्सा बनना मेरे लिए बडी उपलब्धि रही है। इस फिल्म में मुझे मंझे हुए कलाकारों के साथ काम करने का मौका मिला। मैंने ऐक्टिंग का कोई फॉमर्ल कोर्स नहीं किया है। इन लोगों की सोहबत में ही मैंने एक्टिंग सीखी है। शूटिंग के पहले दिन मैं बहुत नर्वस थी। मेरा सीन सलमान खान के साथ था। मैं टेंशन में थी कि कहीं अपने डायलॉग ही न भूल जाऊं। ऐसा हुआ तो सलमान मेरे बारे में क्या सोचेंगे? इसी में उलझी हुई मैं एक कॉर्नर में बैठकर अपनी लाइनें याद कर रही थी। सलमान अचानक वहां आए और मेरे पास बैठ गए। वह मुझसे सामान्य बातचीत करने लगे। समसामयिक मुद्दों पर मेरी राय जाननी चाही। तब एहसास नहीं हुआ लेकिन बाद में समझ आया कि वह हमारे बीच आइस ब्रेक करने आए थे। उसके बाद हमारा सीन एक टेक में हो गया था। इसके बाद मैंने साजिद नाडियावाला की फिल्म 'हीरोपंती' में टाइगर श्रॉफ के साथ काम किया। स्मिता श्रीवास्तव