रैप्स और रोल्स सभी को भाते हैं लेकिन सेहत और कैलरी की चिंता इन्हें खाने से रोक देती है। अगर फिटनेस फ्रीक हैं और कैलरी गिनना आपकी मजबूरी है तो परेशान न हों। रोल की जगह करें बेक अकसर रैप या रोल्स की टॉर्टिया (एक प्रकार की रोटी) को तेल में सेंक कर ही गर्म किया जाता है। लेकिल हेल्दी तरीके से रैप्स बनाने हैं तो इसे बेक करें। इस पर ऑलिव या सेसमै ऑयल से ब्रशिंग करके बेक करें। तभी आप इससे मिलने वाले एक्स्ट्रा फैट और कैलरी से बच पाएंगे। यह तरीका अपनाएं और हेल्दी रैप और रोल्स के मजे लें। सॉस भी हो सेहतमं टॉर्टिया पर लगाई जाने वाली सॉस को भी सेहतमंद ढंग से बनाया जा सकता है। बाजार में मिलने वाले मीठे और प्रिजर्वेटिव्स से भरपूर सॉस के बजाय घर में ताजे टमाटरों की चटनी बनाएं। इससे आप अपने शुगर लेवल को भी कंट्रोल कर सकते हैं। घर पर मेयोनीज बनाने के लिए एग, ऑलिव ऑयल और विनेगर को हैंड ब्लेंडर से इस तरह बीट करें कि वह मेयो का टेक्सचर ले लें। वेजटेरियन लोग इसमें अंडे के बजाय क्रीम ऐड कर सकते हैं। अगर क्रीम से बचना चाहते हैं तो फिर दही का इस्तेमाल भी ठीक रहेगा। घर पर बने गर्मागर्म टेस्टी रैप और रोल्स के साथ फ्रेश चटनी या सॉस परोसें। स्टफिंग हो ऐसी घर में रोल्स को तैयार करते वक्त चीज की जगह पनीर या मिक्स हरी सब्जियों जैसे सोयाबीन, टमाटर, स्वीट पटैटो, मशरूम, बीन्स के अलावा राजमा, एवोकैडो, गाजर और स्प्राउट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। नॉन होल व्हीट से बना टॉर्टिया आमतौर पर रोल्स को मैदे की रोटी से तैयार किया जाता है। सेहत के लिहाज से मैदा अच्छा नहीं है। इसकी जगह गेहूं, मल्टीग्रेन, कॉर्न या पालक से बनी टॉर्टिया इस्तेमाल करेंगे तो कुछ हद तक एक्स्ट्रा कैलरीज लेने से बच जाएंगे। इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि होल व्हीट से बना टॉर्टिया हर जगह उपलब्ध नहीं होता। इसलिए बाजार के बजाय घर में आटे की चपाती भी बना सकते हैं। उसमें हेल्दी स्टफिंग भरें और फ्रेश पुदीना, टमाटर, लहसुन या नींबू की चटनी के साथ सर्व करें। सीजनिंग पर दें ध्यान स्टफिंग की सीजनिंग के लिए काली मिर्च पाउडर, पिसा हुआ भुना जीरा, काला या सफेद नमक, ऑरेगेनो, पैप्रिका और इटैलियन हर्ब्स यूज करें। एक्स्ट्रा सोडियम से बचना चाहते हैं तो नमक की जगह हर्ब्स और मसालों से भी अपनी डिश को नमकीन स्वाद दिया जा सकता है।