Move to Jagran APP

'34 साल पहले देश का सोना गिरवी रखा गया था, आज भारत दुनिया में...,' बोले उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ दो दिन पहले जैसमेर गए थे। आज उन्होंने अपने भाषण में देश की अर्थव्यवस्था के बारे में बात की है। उन्होंने कहा है आज भारत दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा भारत प्रगति कर रहा है। साथ ही ये भी बताया है कि 34 साल पहले देश का सोना गिरवी रखा गया था। लेकिन आज विदेशी मुद्रा बहुत तेजी से बढ़ रही है।

By Agency Edited By: Shubhrangi Goyal Fri, 14 Jun 2024 11:58 AM (IST)
उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने अर्थव्यवस्था पर की बात ( file photo)

एएनआई, जैसलमेर। उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ दो दिन के लिए जैसलमेर दौरे पर हैं। वो विशेष विमान से 12 जून को जैसलमेर एयरपोर्ट पहुंचे थे। इस बीच जगदीप धनखड़ ने भाषण के दौरान देश की अर्थव्यवस्था का जिक्र किया है। उन्होंने कहा, 'भारत अभूतपूर्व प्रगति के पथ पर आगे बढ़ रहा है।

कुछ साल पहले हमारी अर्थव्यवस्था चिंता का विषय थी। आज भारत दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। 34 साल पहले, देश को सुरक्षित रखने के लिए देश का सोना गिरवी रखा गया था, तब हमारी विदेशी मुद्रा कम थी, आज हमारी विदेशी मुद्रा एक हफ्ते में अरबों बढ़ जाती है।'

जगदीप धनखड़ ने किए तनोट माता के दर्शन

जैसलमेर से उपराष्ट्रपति हेलीकॉप्टर से तनोट माता के मंदिर में पहुंचे, यहां सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने तनोट माता के मंदिर पहुंचकर सभी देश वासियों के सुख, समृद्धि के लिए पूजा-अर्चना की। साथ ही तनोट माता मंदिर की यात्रा के दौरान विश्रामग्रह आरक्षित मोड पर रखे गए थे।

उपराष्ट्रपति अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर बावलियांवाला चौकी पहुंचे थे और उन्होंने वहां तैनात बीएसएफ के जवानों से भी  मुलाकात की। साथ ही उन्होंने पहुंचकर बीएसएफ जवानों से बात की और उनका उत्साह वर्धन किया। उपराष्ट्रपति ने कहा की आप लोगों का योगदान, आपकी तपस्या और कर्तव्यनिष्ठा काबिल ए तारीफ है।

सुरक्षा व्यवस्था के लिए चलाया गया ड्राई रन

बता दें कि जिला कलेक्टर ने उपराष्ट्रपति की यात्रा के लिए अधिकारियों को व्यवस्थाओं करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए थे। अधिकारियों को अलग-अलग जिम्मेदारी बांटी गई थी। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था के लिए ड्राई रन किया गया है।

जानकारी के लिए बता दें कि जगदीप धनखड़ भारत के 14वें उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति हैं। वे वकालत करते थे। 11 अगस्त 2022 को जगदीप धनखड़ ने उप राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी। साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल की भी कमान संभाली है।

यह भी पढ़ें: 'भगवान का न्याय बड़ा विचित्र, अहंकारियों को...', RSS नेता इंद्रेश कुमार ने चुनाव नतीजों को लेकर BJP पर साधा निशाना

यह भी पढ़ें: UP Police में 'आउटसोर्सिंग' पर छिड़ा विवाद तो शुरू हुई जांच, अखि‍लेश-प्रि‍यंका ने सरकार को घेरा; कही ये बात