जयपुर, [जागरण संवाददाता]। राजस्थान में जालौर जिले के बडगांव में एक युवक अपने घर आए बिजली के बिल को देखकर बेहोश हो गया। बेहोश हुए युवक का अस्पताल में उपचार चल रहा है।

जानकारी के अनुसार गांव के बाबूलाल प्रतापत के घर जुलाई और अगस्त माह का बिजली का बिल रविवार को पहुंचा। वितरक बिल घर के दरवाजे पर टांग कर चला गया,प्रतापत ने बिल देखा तो उसके पांवों के नीचे से जमीन खिसक गई ,उसने देखा कि दो माह का घरेलू बिल 1 लाख 700 रूपए का आया है,जबकि उसके घर में 15 वॉट का एक बल्ब और एक पंखा चलता है। बिल में अंकित राशि को कई बार देखकर हैरान हुआ प्रताप अचानक बेहोश होकर जमीन पर गिर गया। 

परिजनों एवं पडोसियों ने उसे गांव के ही प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया, जहां सोमवार को भी उसका उपचार जारी रहा। इस प्रकरण की जानकारी मिलते ही गांव के लोग एकत्रित होकर हंगामा करने लगे, माहौल बिगड़ता देख पुलिस और बिजली विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। काफी हंगामें के बाद बिजली विभाग के सहायक अभियंता अनिल कुमार सेन ने बताया कि उपभोक्ता के घरेलू मीटर में तकनीकी खराबी से यदि मीटर गलत रीडिंग दे रहा होगा तो जांच कराई जाएगी,घबराने की जरूरत नहीं है ।

इधर ग्रामीणों का कहना है कि बिजली विभाग के लोग मीटर की रीडिंग लेने आते ही नहीं है, ऑफिस में बैठकर ही मनमानी रीडिंग लगा देते है जिस कारण किसी उपभोक्ता के बिल अधिक राशि का आता है और किसी के कम राशि का आता है ।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप