जागरण संवाददाता,जयपुर। राजस्थान में अनलॉक-2 की गाइडलाइन के तहत बृहस्पतिवार से रोड़वेज और निजी बसों का संचालन शुरू हो गया। अभी 1600 बसों को ही सड़कों पर उतारा गया है। फिलहाल 50 फीसदी क्षमता के साथ बसों का संचालन शुरू किया गया है। बसों में किसी भी यात्री को खड़ा होकर यात्रा करने की अनुमति नहीं होगी। बसों को नियमित रूप से सोडियम हाइपोक्लोराइड से पूरी तरह सैनिटाइज करने के निर्देश दिए गए हैं। शहरों में सिटी बसों का संचालन बंद रहेगा ।

बिना मास्क के यात्रियों को बस में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। यदि कोई यात्री बिना मास्क के बस में बैठा है तो चालक और परिचालक की जिम्मेदारी तय होगी। लॉकडाउन से पहले प्रतिदिन 12 लाख किलोमीटर दौड़ रही थी। राज्य के भीतर के साथ ही देश के विभिन्न राज्यों में भी रोड़वेज बस का संचालन हो रहा था।  लेकिन 10 मई को संपूर्ण लॉकडाउन होने के कारण बसों को डिपो में खड़ा करवा दिया गया ।

रोड़वेज प्रशासन का कहना है कि लॉकडाउन के कारण उसे करीब 4 करोड़ रूपए प्रतिदिन का नुकसान हुआ है । रोडवेज के बेड़े में वर्तमान में 3870 बसें हैं । उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले जारी अनलॉक-2 की गाइडलाइन के तहत बाजार सुबह 6 से शाम 4 बजे तक खोले जा रहे हैं । लेकिन होटल,जिम,रेस्टोरेंट,बार बंद रहेंगी ।  सामाजिक,धार्मिक,राजनीति कार्यक्रम आयोजित नहीं को सकेंगे। शादियों पर 30 जून तक रोक रहेगी । 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप