जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में नाथवाना गांव के पास शुक्रवार को एक कार के नहर में गिरने से चार लोगों की मौत हो गई। हादसे में कार में सवार महिला और उसकी बेटी को बचा लिया गया। दोनों को उपचार के लिए हनुमानगढ़ के जिला सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कार में सभी लोग मूल रूप से हनुमानगढ़ जिले में संगरिया के निवासी थे, लेकिन पिछले कुछ साल से हरियाणा के महेंद्रगढ़ में रह रहे थे।

पुलिस के अनुसार, महेंद्रगढ़ निवासी कार चालक राजेश अपनी पत्नी कमलेश और दो बेटियों वंदना, कोमल और बेटे कुणाल को लेकर शुक्रवार सुबह संगरिया तहसील में स्थित नाथवाना गांव में स्थित देवी के मंदिर में दर्शन करने के लिए रवाना हुआ था। करीब दस बजे अनियंत्रित होकर हनुमानगढ़ जिले की सार्दुल ब्रांच नहर में गिर गई। कार गिरने से राजेश, बेटे कुणाल और बेटी वंदना की मौके पर ही मौत हो गई। कार को नहर में गिरता देख आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे और राजेश की पत्नी कमलेश व बेटी कोमल को बाहर निकाला। ग्रामीणों ने दोनों को संगरिया अस्पताल में भर्ती कराने के बाद पुलिस को हादसे की सूचना दी।

सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस व स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों ने कमलेश और कोमल को एंबुलेंस से हनुमानगढ़ के सरकारी अस्पताल के लिए रवाना किया। इसके बाद कार में मृत मिले राजेश, कुणाल और वंदना के शवों को बाहर निकालकर संगरिया अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया। कार में मिले दस्तावेजों के आधार पर राजेश और उसके परिवार की पहचान हो सकी। पुलिस ने संगरिया में रह रहे राजेश के परिजनों को सूचना दी तो वे मौके पर पहुंचे। पुलिस का मानना है कि राजेश सुबह जल्दी महेंद्रगढ़ से निकला होगा और अचानक उसे नींद की झपकी आने से कार अनियंत्रित होकर नहर में गिर गई।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप