जयपुर, जेएनएन। राजस्थान के नागौर में पुलिस मानव तस्करी के मामले में एक महिला सहित तीन लोगों को पकड़ा है तथा एक नाबालिग बच्ची को उनके चंगुल से मुक्त कराया हैै। पुलिस के अनुसार बीते दिनों पंजाब की एक महिला ने नागौर में अपनी नाबालिग बेटी को बेचने की शिकायत दर्ज कराई थी और बताया था कि पंजाब से मंजीत कौर, राजू एवं सतनाम सिंह मजदूरी के बहाने उसकी लड़की को नागौर लेकर आए और यहां उसे हुड़ीया इलाके में बेच दिया।

पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए किशोरपुरा गांव में दबिश दी। यहां पुलिस को नाबालिग लड़की मिल गई। लड़की ने शिकायत की पुष्टि कर दी और यह भी बताया कि उसके दो अन्य लड़कियां भी थी।

मामले में सामने आया कि आरोपियों ने गिगाराम जाट के घर पर उन तीनों लड़कियों को बंधक बनाकर रखा था और इनमें से एक नाबालिग को जस्साराम को 70 हजार रुपये में बेच दिया था तथा शादी भी करवा दी थी। बाद मे जस्साराम ने उससे दुष्कर्म किया।

पुलिस ने आरोपी जस्साराम जाट व मानव तस्करी के धंधे में लिप्त गिगाराम जाट को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पंजाब के कोटकपुरा से मंजीत कौर को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

जांच में सामने आया है कि मंजीत कौर अन्तर्राज्यीय मानव तस्करी गिरोह से जुड़ी हुई है जो पंजाब, हरियाणा व अन्य राज्यों से गरीब तबके की लड़कियों को काम-धंधे का झांसा देकर खरीद-फरोख्त का कार्य करती है। पुलिस मामले की आगे जांच व पूछताछ कर रही है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप