जयपुर, जागरण संवाददाता। Children Day 2019: राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार बाल साहित्य अकादमी स्थापित करेगी। राज्य स्तर पर गठित होने वाली बाल साहित्य अकादमी के माध्यम से देश के प्रथम प्रधानमंत्री स्वर्गीय जवाहर लाल नेहरू के जीवन और आदर्शों प्रचार-प्रसार किया जाएगा। अकादमी बाल साहित्य बच्चों तक पहुंचाने का काम करेगी। बाल दिवस के मौके पर सीएम अशोक गहलोत ने इसकी घोषणा की।

गहलोत ने कहा कि राष्ट्रपति महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू की जीवनी अवश्य पढ़ी जानी चाहिए। महात्मा गांधी की आत्मकथा "सत्य के प्रयोग" मुख्यमंत्री निवास से बच्चों और युवाओं को नि:शुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। बाल दिवस के मौके पर 130 स्कूली बच्चे पंडित नेहरू की ड्रेस में सीएम से मिलने पहुंचे और उन्हें गुलाब के फूल भेंट किए।

जवाहर कला केंद्र में आयोजित एक संगोष्ठी में गहलोत ने पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री देश को गुमराह कर रहे हैं। आज जो माहौल चल रहा है, उसमें सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया जा रहा है। पंडित नेहरू के लिए शर्मनाम टिप्पणियां की जाती हैं, जो गलत है । उन्होंने कहा कि आजकल नेहरू के बारे में वे लोग बात कर रहे हैं, जो आजादी की लड़ाई में कभी भागीदार नहीं रहे। नेहरू ने आजादी के लिए लंबा संघर्ष किया, लेकिन आज उनको लेकर कुप्रचार किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य है कि देश में ऐसे तुच्छ लोग हैं, जिन्हें यह ज्ञान नहीं है कि नेहरू क्या थे। उनकी हस्ती मिटाने वाले खुद मिट जाएंगे। आज जिस ढांचे पर हिंदुस्तान खड़ा है, वह नेहरू का बनाया हुआ है। चाहे वे कारखाने हो या फिर आइआइटी या एम्स नेहरू की ही सोच थी, जो आगे बढ़ती गई। उन्होंने कहा कि आज देश में भय का माहौल है।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में हुआ कार्यक्रम

जयपुर स्थित प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पंडित जवार लाल नेहरू के चित्रों की प्रदर्शनी लगाई गई। प्रदर्शनी का उद्घाटन उपमुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने किया। इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए पायलट ने कहा कि देश की दिशा तय करने में नेहरू की अहम भूमिका थी। समय के साथ-साथ कुछ लोग अलग सोच बनाकर उसकस विरोध अब कर सकते हैं। नेहरू की सफलता, योगदान और लीडरशिप को देश हमेशा याद रखेगा। उन्होंने कहा कि आज देश में जो तेरा-मेरा, हिंसा, क्रोध और धर्म की राजनीति पनप रही है, उसे बंद किया जाना चाहिए।

बच्चों को मेट्रो का सफर और फिल्म "सुपर-30" की गिफ्ट

बाल दिवस के मौके पर सरकार की तरफ से गुरुवर को बच्चों के लिए जयपुर में मेट्रो का सफर नि:शुल्क किया गया। इसके साथ ही फिल्म सुपर-30 भी जयपुर के सात सिनेमाघरों में बच्चों को फ्री दिखाई गई। जयपुर शहर एवं आसपास से आए बच्चों ने मेट्रो के सफर और फिल्म का आनंद लिया। फिल्म को राजस्थान सरकार ने कर मुक्त किया है।

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप