जयपुर। जयपुर के सांगानेर इलाके में दो दिन पहले मिली पांच साल की बच्ची की हत्या के मामले में पुलिस ने एक महिला और उसके दो भाइयों को गिरफ्तार किया है। यह महिला बच्ची के पिता की प्रेमिका है। दोनों के बीच तीन साल से अवैध सम्बन्ध थे। इसी के चलते महिला ने बच्ची की हत्या कर दी।

जयपुर में सांगानेर बक्सावाला गांव में चार दिन पहले पांच साल की मासूम बच्ची जाह्नवी का शव एक बोरे में बंद पड़ा मिला था। पुलिस ने जांच की तो सामने आया कि पिता संजय की प्रेमिका एकता ने ही अपने भाइयों आशीष और एक नाबालिग के साथ मिलकर पहले जाह्नवी के सिर पर रॉड मारा फिर बोरे से मुंह दबा दिया और जब बच्ची की मौत हो गई तो उसे बोरे में भरकर दो मकानों के बीच सीवर लाइन में फेंक दिया।

एडिशनल कमिश्नर अशोक गुप्ता ने बताया एकता और जाह्नवी के पिता संजय में तीन साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इसकी जानकारी संजय की पत्नी अनिता को लगी तो घर में झगड़े होने लगे। एकता संजय के घर के पास ही रहती है। शनिवार को जान्हवी एकता के घर के सामने से जा रही थी। एकता ने बच्ची को अपने घर ले गई। एकता ने पहले म्यूजिक सिस्टम की आवाज काफी तेज कर दी फिर से उस खिलाने के बहाने रसोई में ले गई। रसोई में एकता ने बच्ची के सिर और चेहरे पर रॉड से वार किया और बोरे से मुंह को दबाए रखा। फिर पूरे मामले की जानकारी उसने अपने भाई आशीष को दी। आशीष और नाबालिग भाई ने बहन को बचाने के लिए शव को गली में फेंक दिया।

एकता की योजना था कि वह जाह्नवी की हत्या का आरोप किसी तरह अनिता पर लगा और खुद संजय से शादी कर ले। अगले दिन जब बच्ची के लाश मिली तो एकता जाह्नवी की मां अनिता के घर जाकर उसे दिलासा देने लगी। उसके दोनों भाई भी वहीं मौजूद रहे। इस दरम्यान पुलिस को उनके खिलाफ कुछ जानकारी मिली। लेकिन पूछ-ताछ मे तीनों घटना से अनजान बने रहे और अलग-अलग कहानियां सुनाकर गुमराह करते रहे।

पुलिस टीम ने 500 लोगों से पूछताछ की। एफएसएल टीम ने घटना स्थल से लिए गए ब्लड सैंपल व फुट प्रिंट की रिपोर्ट सौंपी। एक्सपर्ट की मदद से फुट प्रिंट मैच किए तो वह आरोपियों के निकले। पुलिस ने हत्या में प्रयोग किया रॉड बरामद कर ली है।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस