जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान में श्रीगंगानगर जिले के अनूपगढ़ में सीबीआइ ने रेलवे के सीनियर सेक्शन इंजीनियर आरएच मीणा को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरएच मीणा ने रेलवे ट्रैक के नीचे से सिंचाई की पाइपलाइन क्रास करने की अनुमति देने के बदले में परिवादी रणबीर सिंह से 25 हजार रुपये की रिश्वत ली है। परिवादी रणवीर सिंह की शिकायत पर सीबीआइ ने इंजीनियर आरएच मीणा को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया।

रणवीर सिंह ने बताया कि आरएच मीणा ने 28 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी। लेकिन फिर बाद में 25 हजार रुपये में सौदा तय हुआ। आरएच मीणा के साथ रिश्वत की रकम तय होने के बाद रणवीर सिंह ने रेलवे व सीबीआइ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। रेलवे और सीबीआइ अधिकारियों ने आरएच मीणा की गतिविधियों पर नजर रखी तो संदिग्ध नजर आई। इसी बीच, रणवीर सिंह शनिवार देर शाम रिश्वत देने आरएच मीणा के पास पहुंचा। सीबीआइ की टीम भी तत्काल मौके पर पहुंची और रिश्वत की राशि बरामद कर आरएच मीणा को गिरफ्तार कर लिया।

श्रीगंगागनर जिले के 75 जीबी निवासी रणवीर सिंह की जमीन रेलवे ट्रैक के दोनों तरफ पड़ती है। जमीन के दोनों तरफ सिंचाई पानी पहुंचाने के लिए रेल लाइन के नीचे से पाइप डालनी थी। इसके लिए किसान ने रेलवे की निर्धारित फीस भर दी थी। रेलवे की निर्धारित फीस भरने के बावजूद सीनियर सेक्शन इंजीनियर रेल पथ (पी-वे) की ओर से पाइप डालने की मंजूरी देने की एवज में बार-बार परेशान किया जा रहा था। परिवादी ने बताया कि गत 25 सितंबर को इंजीनियर ने उससे 28 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। बाद में आरोपित 25 हजार रिश्वत में मंजूरी देने के लिए मान गया। सीबीआइ की टीम ने रविवार को आरएच मीणा के कार्यालय व घर की तलाशी ली। रविवार को उससे सीबीआइ की टीम ने पूछताछ की। 

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस