अजमेर,(जेएनएन)। भीलवाड़ा जिले में स्थित हलेड़ गांव की पूनम चन्नाल का गला किसी और ने नहीं, बल्कि उससे प्यार करने वाले और उम्र में 6 साल बड़े कमल घुसर ने ही रेता था। कत्ल का सबसे बड़ा कारण कमल, पूनम से शादी करना चाहता था, लेकिन पूनम की सगाई कहीं और होने की बात सामने आने और उसके द्वारा शादी से इनकार करना रहा। सदर थाना पुलिस ने 24 घंटे में कत्ल का राजफाश करते हुए शाहपुरा थाने के आमली कलां गांव के कमल पुत्र भंवर लाल घुसर को गिरफ्तार कर लिया।

सदर थाना प्रभारी कृष्ण कुमार ने बताया कि हलेड़ गांव से सुवाणा जाने वाले रास्ते पर अंग्रेजी बंबूल के बीच बुधवार दोपहर गांव की ही पूनम (20) पुत्री बाबूलाल चन्नाल का शव पड़ा मिला। उसकी गला काटकर हत्या की गई थी। इसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिलीप सैनी के निर्देशन में पुलिस टीम ने पड़ताल शुरू की और अथक प्रयास कर 24 घंटे के अंतराल कत्ल का खुलासा करते हुए आमली कलां निवासी कमल घुसर को गिरफ्तार कर लिया।

कत्ल का खुलासा करने वाली टीम ने डीएसपी राजेश आर्य, थाना प्रभारी कृष्ण कुमार, दीवान जयसिंह, सुरेंद्र सिंह, सचिंद्र मोहन, दिनेश कुमार, सुनील कुमार, देवेंद्र कुमार, गोमाराम, अनिल कुमार शामिल थे। पुलिस ने बताया कि आरोपित के खून सने कपड़े, कत्ल में काम ली कटार बरामद करने के प्रयास किये जा रहे हैं।

कमल ने यह किया खुलासा- पूनम के कत्ल के आरोप में पकड़े गये कमल ने पुलिस पूछताछ में बताया कि पिछले सात-आठ माह से उसका पूनम के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था। दोनों फोन पर बातचीत कर रहे थे। दोनों ने शादी का वायदा भी एक-दूसरे से किया था। करीब एक महीने पहले पूनम ने शादी से इनकार कर दिया और दूसरे के साथ सगाई करने के लिए तैयार थी। इसी को लेकर कमल ने पूनम से बदला लेने की ठान ली।

फोटो डिेलेट करने के बहाने बुलाया- कमल ने कबूल किया कि पिछले दिनों उसने पूनम के फोटो खींचे थे। इन फोटो को डिलीट करने के बहाने उसे फोन कर घर से बाहर एकांत में बुलाया था। पूनम जब वहां पहुंची तो कमल ने उसे समझाया, लेकिन वह शादी के लिए तैयार नहीं हुई। इससे खफा होकर कमल ने कटार से पूनम का गला रेत दिया और सीने पर भी वार किये।

100 से ज्यादा कॉल की- पूनम, कमल से बात नहीं करना चाहती थी, लेकिन उसके फोटो कमल के पास होने से वह सहमी हुई थी। कमल ने कत्ल से पहले अपने गांव से हलेड़ पहुंच कर पूनम को 100 से ज्यादा कॉल किये, इनमें से पूनम ने मात्र 7-8 कॉल ही अटेंड किये थे। वह फोटो डिलीट करवाने के लिए ही कमल के पास आई थी, लेकिन उसे जरा भी आभास नहीं था कि कमल उसकी जान ले लेगा।

कत्ल कर भागा गांव, हड़बड़ाहट में गिरा चश्मा- कमल ने कबूल किया कि वारदात स्थल से कुछ दूरी पर मिला खूून लगा चश्मा भी उसी का था, जो पूनम के कत्ल कर भागने के दौरान हड़बड़ाहट में गिर गया था। उसने कबूला कि वह कत्ल के बाद अपने गांव लौट गया था। जहां से पुलिस उसे थाने ले आई और पूछताछ की। पुलिस का कहना है कि कमल ने पूनम का कत्ल स्वीकार कर लिया।

ऐसे लगा सुराग- पुलिस का कहना है कि कत्ल के बाद पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की तो कमल का नाम सामने आया। परिजनों ने कहा कि कमल व उसके परिजन पूर्व में पूनम से सगाई के लिए आये थे, लेकिन बात नहीं बनी थी। 

Posted By: Preeti jha