जोधपुर, रंजन दवे। सरहदी जिले बाड़मेर में आत्महत्याओं का सिलसिला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। साथ ही बाड़मेर के चौहटन क्षेत्र में लगातार प्रेम प्रसंग, गृह क्लेश और अन्य घरेलू मुद्दों को लेकर आत्म हत्याओं का दौर अनवरत जारी है। अभी एक दिन पूर्व ही चौहटन क्षेत्र में 5 बच्चों को पानी के टांके में धकेल कर स्वयं कूद कर आत्महत्या करने वाली महिला का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा था कि शुक्रवार सुबह एक पेड़ पर प्रेमी युगल के शव लटके मिलने से एक बार फिर चौहटन सुर्खियों में आ गया।

घटना चौहटन के ही बीजराड़ थाना क्षेत्र के गोहड़ का तला गांव की है जहां एक पेड़ पर देर रात प्रेमी युगल ने फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। गोहड़ का तला गांव के कुछ ग्रामीणों को सुबह पेड़ से लटके दो शव दिखे इसके बाद वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। जिसके बाद पुलिस को इत्तला दी गई।

जानकारी अनुसार युवक और युवती दोनों गांव के ही रहने वाले थे और एक ही जाति के थे। युवक बालिग था जबकि युवती महज 17 वर्ष की थी। सूचना मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और शव को पेड़ से उतरवा कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया। बताया जा रहा है कि युवक युवती में प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन दोनों के परिजन इसके खिलाफ थे। युवती के परिजन उसकी अन्यत्र शादी करना चाहते थे। ऐसे में दोनों ने बीती रात पेड़ से लटक कर अपनी जिंदगी समाप्त कर ली।

बाड़मेर में आत्महत्या करने वालों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है और लोगों में अब आत्महत्या को लेकर बाड़मेर और चौहटन क्षेत्र में हो रही आत्महत्याओं इन घटनाओं की चर्चाएं जोर पकड़ रही है। चौहटन क्षेत्र में ही लीलसर गांव में 15 दिन पूर्व एक प्रेमी युगल ने स्वयं को गोली मारकर आत्महत्या की थी।वही 1 दिन पहले एक मां द्वारा अपनी पांच बेटियों को पानी के टांके में धकेल कर खुद के कूदने कर आत्महत्या करने का मामला भी सामने आया था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021