जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान में बारिश अब आफत बन गई है। बारिश से हुए विभिन्न हादसों में बुधवार को 10 लोगों की मौत हुई है। बूंदी जिले के केशवरायपाटन में मकान गिरने से एक ही परिवार के सात लोग दब गए। इनमें से तीन की मौत हो गई, जबकि चार को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। केशवरायपाटन में ही चंबल के पास बनी कच्ची सुरक्षा दीवार एक कच्चे घर पर गिर गई। इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई। भारी बारिश के कारण राज्य के चार जिलों कोटा, बारां, बूंदी और धौलपुर के कई इलाकों में बाढ़ के हालात बन गए हैं। सबसे ज्यादा कोटा जिले के खातोली में 12 इंच और धौलपुर में 11 इंच बारिश हुई। चंबल नदी के 10 गेट खोलकर करीब 50 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। धौलपुर जिले के कई गांवों में चंबल का पानी आ गया। इस कारण कई गांव टापू बन गए। जिले के आठ गांवों में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। सरमथुरा-नादनपुरा रोड़ पर खुर्दिया गांव के पास बना पार्वती नदी का पूल टूट गया। झालावाड़ व भरतपुर जिलों में भारी बारिश के कारण लोगों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया।

बस पानी में फंसी

बूंदी जिले के देहीखेड़ा इलाके में एक रोडवेज की बस बरसाती नाले में फंस गई। बस में करीब 30 यात्री सवार थे। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और रस्सों की सहायता से सवारियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। भारी बारिश के कारण रेल यातायात भी प्रभावित हुआ है। कोटा-सवाईमाधोपुर के बीच रेल लाइन पर पानी भर गया। इससे जयपुर-मुंबई सेंट्रल स्पेशल रेल सेवा का रूट बदलकर संचालित किया जा रहा है। अब गाड़ी संख्या 02956 जयपुर-मुंबई सेंट्रल स्पेशल अजमेर-चंदेरिया,चित्तौड़गढ़,-कोटा होकर संचालित होगी। मौसम विभाग ने बारां, कोटा व सवाईमाधोपुर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। जयपुर जिले के बगरू में बाढ़ के हालात बनने से लोग घरों की छत पर चढ़ गए, जिन्हें प्रशासन ने सुरक्षित बाहर निकाला।

सीएम का ट्वीट

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट में लिखा कि कोटा, बारां, बूंदी व झालावाड़ जिलों के कुछ इलाकों में भारी बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। प्रशासन को राहत व बचाव कार्य के संबंध में निर्देश दिए गए हैं। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें मदद में जुटी है। जरूरत पड़ने पर सेना की मदद ली जाएगी। धौलपुर में भी चंबल नदी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। भरतपुर में अधिक बारिश होने के कारण कुछ इलाकों में बाढ़ के हालात बन गए। प्रशासन को अलर्ट रखा गया है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra