उदयपुर, संवाद सूत्र। आइपीएल 2021 के मंगलवार रात हो रहे टवेंटी-टवेंटी मैच के लिए सट्टा लगाने के आरोप में उदयपुर पुलिस ने मध्य प्रदेश के पांच युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके कब्जे से तीन लैपटॉप, चालीस मोबाइल फोन, एक कार, टीवी तथा आठ करोड़ रुपये के सट्टे का हिसाब के साथ सोलह हजार छह सौ रुपये नकद बरामद किए गए हैं। इस संबंध में उदयपुर जिला स्पेशल टीम के प्रभारी हनमंत सिंह राजपुरोहित ने बताया कि मीरां नगर के हाइट कॉम्पलेक्स के एक फ्लैट में सट्टे का खेल चल रहा था। पकड़े गए आरोपियों में कमलेश कालरा, नदीम मेवाती, लवि शर्मा, शाहनवाज हुसैन और मोहम्मद ईशाक शामिल हैं, ये सभी आरोपित मध्य प्रदेश के नीमच तथा मंदसौर जिले के हैं, जो उदयपुर में छोटे बुकी से संपर्क में थे।

पुलिस ने बताया कि आरोपितों ने सट्टा लगाने के लिए एक ऑटोमेटिक सिस्टम भी तैयार किया था। जिससे कई छोटे बुकी सीधे सट्टे की लाइन से जुड़े हुए थे। पुलिस ने उनसे एक ऐसी मशीन बरामद की, जिससे सोलह मोबाइल एक-दूसरे से कनेक्टेड थे। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि एक पेटी नुमा मशीन में 16 मोबाइल लगे हैं। यानी सोलह बुकी एक-दूसरे से जुड़े हुए थे, जो अन्य कई लाेगाें के पैसे लगा रहे थे। ऑटोमेटिक पेटीनुमा मशीन में मोबाइल ऑटाे रिसीव हाेता है और बुकी अपना दांव बाेल देता था, जो बुकी दाव बाेलता उसके काेड के अनुसार लैपटॉप में स्वत: ही एंट्री हाे जाती थी। उदयपुर पुलिस का कहना है कि इन आरोपितों के खिलाफ पहले हथियार तस्करी का मामले भी दर्ज हैं और सभी जमानत पर रिहा थे। सट्टा खिलाने के मामले में पकड़े गए आरोपितों को बुधवार सुबह अदालत में पेश किया। जिन्हें अदालत के निर्देश के अनुसार चौदह दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं, पुलिस इस मामले के हर पहलू की जांच कर रही है। पूछताछ के दौरान अहम खुलासे की उम्मीद है।