जागरण संवाददाता,जयपुर। कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सरकार द्वारा गए लॉक डाउन के बीच प्रदेश के चूरू में तब्लीगी जमात के 18 लोग मिले हैं । तब्लीगी जमात के ये सभी लोग यहां मरकज में मिले हैं । सूचना मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक तेजस्वीनी गौतम ने उन्हे प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मिलकर आइसोलेशन सेंटर में भेजा । इन लोगों ने पहले तो आइसोलेशन सेंटर में जाने से इंकार कर दिया,लेकिन बाद में प्रशासनिक दबाव के कारण वे तैयार हुए । गौतम ने बताया कि ये सभी लोग राजस्थान के ही है ।

इनकी जांच कराई गई है । दरअसल,दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके के एक मरकज में डेढ़ हजार लोगों के शामिल होने की सूचना के बाद केंद्रीय खुफिया एजेंसियों ने राज्य पुलिस को इस बारे में सूचना दी थी । पुलिस को यह बताया गया था कि प्रदेश में तब्लीगी जमात के लोग कुछ स्थानों पर एकत्रित हो सकते हैं । इस पर पुलिस ने निगरानी शुरू की और चूरू शहर एवं सरदारशहर से इन्हे पकड़ कर आइसोलेशन सेंटर में भेजा गया है । 

डिप्टी सीएम और मंत्री ने सीएम से की मांग,बिजली के बिल में राहत दी जाए 

कोरोना वायरस के प्रभाव को रोकने के लिए चल रहे लॉक डाउन के बीच राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लोगों को बिजली और पानी के बिलों में छूट देने की मांग की है । पायलट ने मंगलवार को ट्वीट किया कि,माननीय मुख्यमंत्री महोदय से मैं आम आदमी और किसानों को बिजली एवं पानी के बिलों में छूट दिए जाने की गुजारिश करता हूं । मेरा मानना है कि इस मुश्किल समय में लोगों और किसानों की हर संभव मदद की जानी चाहिए । इससे पहले विश्वेंद्र सिंह ने ट्वीट कर सीएम से पानी और बिजली के बिलों में छूट देने की मांग की थी । 

Posted By: Vijay Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस