मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जोधपुर, जेएनएन। रॉबर्ट वाड्रा और उनकी मां मौरीन वाड्रा पर राजस्‍थान के बीकानेर लैंड डील में चल रहे केस की आज जोधपुर हाई कोर्ट में अंतिम बहस हो सकती है। 22 अगस्त को इस मामले में जस्टिस जीआर मूलचंदानी के अधीन कोर्ट में सुनवाई हुई थी। 22 अगस्त को दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने अगली सुनवाई के लिए 12 सितंबर की तारीख तय किया था। आज कोर्ट इस मामले में अंतिम सुनवाई कर सकती है।

जानकारी हो कि प्रवर्तन निदेशालय बीकानेर लैंड डील मामले की जांच कर रही है। अभी इस मामले में अदालत ने रॉबर्ट वाड्रा और उनकी मां की गिरफ़्तारी पर रोक लगाई है। 22 अगस्त को इस मामले में जस्टिस जीआर मूलचंदानी के अधीन कोर्ट में सुनवाई हुई थी। यह सुनवाई रॉबर्ट वाड्रा और उनकी मां मौरीन वाड्रा से जुड़ी स्काई लाईट हॉस्पिटालिटी प्राइवेट लिमिटेड और महेश नागर की याचिका पर हुई थी। तब प्रवर्तन निदेशालय की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल दीपक रस्तोगी ने इस केस में जल्द सुनवाई की मांग की थी। 22 अगस्त को दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने अगली सुनवाई के लिए 12 सितंबर की तारीख तय किया था।  कोर्ट इस मामले में अंतिम सुनवाई कर सकती है।

जानकारी के अनुसार यह पूरा मामला बीकानेर के कोलायत क्षेत्र में 275 बीघा जमीन खरीद फरोख्त से जुड़ा हुआ है। बताया जा रहा है कि यह जमीन बीकानेर के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज के विस्थापित लोगों को अलॉट की किया जाना था लेकिन इसे गलत तरीके से खरीदा गया। अब इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है।

वाड्रा की ओर से वकील कुलदीप माथुर ने स्काईलाइट हॉस्पिटालिटी प्राइवेट लिमिटेड और रॉबर्ट वाड्रा मुकदमे में सुनवाई के दौरान अंतिम बहस के लिए अदालत से और समय की मांग की थी। लेकिन एएसजी रस्तोगी ने इसका विरोध करते हुए कहा था कि अंतिम बहस जल्द होनी चाहिए। प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर लगी अंतरिम रोक को भी हटाने की मांग की है। आज कोर्ट इस मामले में अंतिम सुनवाई कर सकती है।

 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप