जयपुर, जेएनएन। Community Radio. राजस्थान में सभी सरकारी विश्वविद्यालयों में कम्युनिटी रेडियो शुरू किए जाएंगे, ताकि आमजन में विज्ञान शिक्षा का प्रचार-प्रसार हो सके। वही, किसी आपदा के समय ट्रैफिक, दुर्घटना, मौसमी बीमारियों के बारे में लोगों को बताया जा सके।

दूर-दराज क्षेत्रों के लोगों को जागरूक एवं योजनाओं का लाभ प्रदान करने के लिए कम्युनिटी रेडियो एक बेहतर,सस्ता एवं सुलभ माध्यम बन चुका है। राजस्थान में कुछ स्थानों पर कम्युनिटी रेडियो सफलतापूर्वक चल भी रहे हैं। प्रदेश के सिरोही जिले के माउंट आबू और आसपास के आदिवासी क्षेत्र में चल रहे मधुबन रेडियो को तो हाल में केंद्र सरकार ने तीन पुरस्कार भी दिए हैं। अब सरकार इसका उपयोग विज्ञान व प्रौद्योेगिकी को लोकप्रिय बनाने और अपनी योजनाओ को बेहतर ढंग से लोगों तक पहुंचाने में करना चाह रही है।

राजस्थान के विज्ञान व प्रौद्योगिकी विभाग की शासन सचिव मुग्धा सिन्हा ने दो दिन पहले ही इस बारे में एक बैठक की है। उन्होंने बताया कि कम्युनिटी रेडियो का जागरूकता एवं सामाजिक स्वच्छता के लिए उपयोग किया जाएगा। जिन जिलों में कम्युनिटी रेडियो स्थापित एवं संचालित हैं, उन जिलों के कलक्टर को पत्र लिखा जाएगा, ताकि जिला स्तर पर राज्य की योजनाओं के प्रचार-प्रसार में कम्युनिटी रेडियो की सहभागिता को बढ़ाया जा सके। जिन जिलों में कम्यूनिटी रेडियो स्थापित नही है, वहां कम्यूनिटी रेड़ियो स्थापित करने के लिए विश्वविद्यालयों एवं नगर पालिकाओं को कहा जाएगा। सिन्हा ने का कि दूसरे राज्य की तुलना में राजस्थान में केवल सात कम्युनिटी का संचालन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि कम्युनिटी रेडियो में आपसी समन्वय एवं उनके द्वारा राज्य सरकार की योजनाओं के प्रभावी पहुंच के लिए एक उच्चस्तरीय समिति का गठन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में संचालित कम्युनिटी रेडियो की विशिष्ट पहुंच द्वारा राज्य में विद्यालयी छात्र-छात्राओं, महिलाओं, सामाजिक स्वच्छता, आपदा नियंत्रण, सामाजिक सौहार्द्र, महामारी आदि पर राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं से राज्य की जनता को प्रभावी रूप से जागरूक किया जा सकता है। 

राजस्थान की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस