Move to Jagran APP

राजस्थान में बंद होगी चिरंजीवी योजना, बदले में नई स्कीम लाएगी सरकार, गहलोत सरकार का ये फैसला भी लिया वापस

Rajasthan राजस्थान की भाजपा सरकार कांग्रेस शासन में शुरू हुई चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना को बंद करने की तैयारी में है। इसकी जगह पर भाजपा सरकार अब नई स्वास्थ्य योजना लागू करने की तैयारी कर रही है। इसके अलावा कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में 2500 महात्मा गांधी पुस्तकालय और संविधान केंद्र खोलने की योजना को भी अब लागू नहीं करने का फैसला किया है।

By Jagran News Edited By: Sachin Pandey Sat, 22 Jun 2024 02:00 AM (IST)
भाजपा सरकार अब नई स्वास्थ्य योजना लागू करने की तैयारी कर रही है। (File Photo)

जागरण संवाददाता, जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस सरकार की योजनाओं को बंद करने अथवा नाम बदलने का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में अब भाजपा सरकार कांग्रेस शासन में शुरू हुई चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना को बंद करने की तैयारी में है। इसकी जगह पर भाजपा सरकार अब नई स्वास्थ्य योजना लागू करने की तैयारी कर रही है।

भाजपा केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजना की तर्ज पर पांच लाख रुपये का मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध करवाने की तैयारी कर रही है। प्रदेश में चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का नाम बदलकर उसे केंद्र सरकार की आयुष्मान योजना में मर्ज कर दिया गया है। अब इस योजना का नाम मुख्यमंत्री आयुष्मान आरोग्य योजना कर दिया गया है।

पिछली योजना को बताया छलावा

प्रदेश के चिकित्सा मंत्री गजेंद्र सिंह का कहना है कि कांग्रेस सरकार की चिरंजीवी योजना छलावा थी। इस योजना में किसी को 25 लाख रुपये का उपचार नहीं मिला। मात्र एक मामले में 13 लाख रुपये उपचार पर खर्च हुए थे।

यह फैसला अब लागू नहीं होगा

भाजपा सरकार ने कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में 2500 महात्मा गांधी पुस्तकालय और संविधान केंद्र खोलने की योजना को भी अब लागू नहीं करने का फैसला किया है। इस योजना के लिए कांग्रेस सरकार द्वारा आवंटित किया गया दस करोड़ रुपये का बजट भी भाजपा सरकार ने वापस ले लिया है। भाजपा सरकार ने प्रदेश में 50 हजार महात्मा गांधी सेवा प्रेरक भर्ती करने के फैसले को पूर्व में ही निरस्त कर दिया है।