जागरण संवाददाता, जयपुर। Coronavirus: राजस्थान में शनिवार को कोरोना के 3007 नए मामले सामने आए और 16 लोगों की मौत हुई है। एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में संक्रमितों के मिलने से सरकार की चिंता बढ़ गई है। प्रदेश में अब तक दो लाख 40 हजार 676 लोग संक्रमित मिले, वहीं 2146 लोगों की मौत हुई है। अब तक 1963 एक्टिव केस मिले हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्राइवेट अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए बेड बनाने के लिए कहा है। सरकारी अस्पतालों में भी सुविधाओं की बढ़ोतरी के निर्देश दिए गए हैं। ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति को लेकर जिला कलेक्टरों को पाबंद किया गया है। तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए सरकार ने प्रदेश में धारा-144 शुक्रवार रात 12 से लागू कर दी।

इसके तहत पांच से ज्यादा व्यक्ति एक साथ समूह में नहीं रह सकेंगे। वहीं, रैली, जुलूस, जनसभाएं और सार्वजनिक समारोह पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। हालांकि, इससे शादी समारोह, अंतिम संस्कार और परीक्षाओं जैसी जरूरी गतिविधियां प्रभावित नहीं होगी। शादी समारोह में सरकार से मिली छूट के अनुसार कोविड नियमों की पालना करते हुए अधिकतम 100 व्यक्तियों के आने की अनुमति रहेगी। इसके अलावा अंतिम संस्कार में भी 20 व्यक्तियों के आने की अनुमति रहेगी। 

गौरतलब है कि राजस्थान में शुक्रवार को कोरोेना वायरस संक्रमण से 14 लोगों की मौत हुई थी। प्रदेश में अब तक 2130 लोगों की मौत के साथ ही दो लाख 37 हजार 699 कोरोना वायरस से संक्रमित मिल चुके हैं। प्रदेश में कोरोना से एक्टिव केसों की संख्या 20,923 है। अब तक जयपुर में सबसे अधिक 41,547 कोरोना वायरस पॉजिटिव केस मिले हैं। शुक्रवार को जयपुर में 514 संक्रमित मिले। चिकित्सा विभाग ने जांच बढ़ाने के लिए एक बार फिर घर-घर सर्वे शुरू करने की योजना बनाई है। सूत्रों के मुताबिक, धारा 144 लगने के आने वाले समय में कोरोना के मामलों में कमी आ सकती है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस