जागरण संवाददाता, जयपुर। Rajasthan: राजस्थान में कोरोना के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए अब विधायकों को अपने निर्वाचन क्षेत्र में पांच दिन रहना होगा। विधायकों को स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों व चिकित्सकों के साथ मिलकर लोगों को कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक करना होगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को कोरोना के जागरूकता अभियान की समीक्षा के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा राज्य सरकार का लक्ष्य है कि कोरोना से मृत्यु दर शून्य हो जाए, इसमें विधायकों की भूमिका महत्वपूर्ण होगी। जिला कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद करते हुए गहलोत ने कहा कि पिछले दिनों मंत्रिमंडल के सदस्य अपने प्रभार वाले जिलों में दो-दो दिन रहकर आए। उनके साथ जिला के प्रभारी सचिव भी गए।

मंत्रियों और सचिवों ने स्थानी जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के साथ बैठक करने के साथ ही लोगों के बीच जाकर संवाद किया। अब विधायकों को यह जिम्मा संभालना होगा। गहलोत ने कहा कि मार्च में जब प्रदेश में पहला कोरोना रोगी मिला था, उस समय प्रदेश में जांच क्षमता शून्य थी, लेकिन अब 40 हजार प्रतिदिन की क्षमता हो गई है। प्रदेश में प्रतिदिन पांच हजार कोरोना टेस्ट हो रहे हैं। गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के 108 चिकित्सा भवना का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया। इन कार्यों के लिए सरकार ने 200 करोड़ रुपये का प्रावधान रखा है। गहलोत ने कहा कि राजस्थान देश में पहला राज्य है, जिसने व्यापक स्तर पर कोरोना को लेकर जागरूकता अभियान चलाया है। इस मौके पर चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि अब तक कुल आठ लाख 24 हजार लोगों के सैंपल लिए गए 18 हजार से अधिक लोग संक्रमित मिले हैं। इनमें से 78.7 प्रतिशत लोग स्वस्थ हो गए। 

राजस्थान में मंगलवार को कोरोना के 354 नए मामले सामने आए हैं और आठ मौतें हुई हैं। प्रदेश में अब तक 18,014 संक्रमित पाए गए हैं और कोरोना से 413 मौतें हुई हैं। वहीं, अजमेर में मंगलवार को सात कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं। एक अधेड़ महिला की मौत हो गई है। कुल कोरोना मरीजों का आंकड़ा 521 के पार पहुंच गया है तो कोरोना से मरने वाले भी 21 हो गए हैं। जिस अधेड़ महिला की मौत होना बताया जा रहा है, उसको किडनी की बीमारी भी थी। यह महिला एक माह से डालिसिस भी करा रही थी। उपखंड अधिकारी एवं उप जिला मजिस्ट्रेट डॉ आर्तिका शुक्ला ने अजमेर के रामगंज व अलवरगेट पुलिस थाना क्षेत्रों के कुछ इलाकों में धारा 144 लागू करते हुए जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित किया है।

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस