जागरण संवाददाता, जयपुर। Sachin Pilot. राजस्थान के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की मांग की है ।

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए पायलट ने कहा कि राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रस्ताव पारित किया है। राहुल गांधी हर वर्ग के भले के लिए सोचते हैं। कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता चाहते हैं कि वह पार्टी का नेतृत्व करें। गौरतलब है कि गत लोकसभा चुनाव में हार के बाद उन्होंने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

इस दौरान उन्होंने कहा कि लद्दाख की गलवन घाटी में शहीद हुए देश के वीर सैनिकों को श्रृद्धांजलि स्वरूप प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा शुक्रवार को प्रदेशभर में जिला एवं ब्लॉक स्तर पर 'शहीदों को सलाम' दिवस के रूप में मनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि 29 जून को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में जिला स्तर पर प्रदर्शन किया जाएगा।

इधर, राजस्थान कांग्रेस में संघर्ष तेज होता जा रहा है। वैसे तो पौने दो साल पूर्व जब कांग्रेस सत्ता में आई तब से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच खींचतान चल रही है, लेकिन पिछले कुछ समय से यह खींचतान तेज हो गई । गहलोत खेमा पार्टी में एक व्यक्ति एक पद सिद्धांत लागू करने की बात कर रहा है। गहलोत खेमा इसी मुद्दे को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी तक अपनी बात पहुंचाने का प्रयास कर रहा है । गहलोत समर्थकों का तर्क है कि सचिन पायलट पिछले साढ़े छह साल से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पौने दो साल से उप मुख्यमंत्री पद पर कार्यरत है। उन्हें एक पद छोड़ना चाहिए।

इसी बीच, मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए पायलट ने कहा कि मैं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद पर रहूं या नहीं रहूं ये फैसला कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेगी। पायलटल ने कहा कि राजनीति में कब क्या होगा यह कहा नहीं जा सकता,जिसका जहां उपयोग लेना है, चाहे सरकार हो या संगठन उसका फैसला कांग्रेस हाईकमान करता है। कार्यकर्ताओं के खून पसीने से हम सरकार में आए हैं। सीएम गहलोत द्वारा राजनीतिक नियुक्तयों को लेकर की जा रही कसरत के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में पायलट ने कहा कि कोआर्डिनेशन कमेटी के माध्यम से राजनीतिक नियुक्तियां होगी। मंत्रिमंडल में फेरबदल सहित सभी निर्णय सत्ता व संगठन मिलकर करेंगे। उन्होंने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं की विपक्ष में रहते हुए रगड़ाई हुई, उनके मान-सम्मान का बीड़ा मैंने उठाया है।

 

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस