जयपुर, जागरण संवाददाता। राजस्थान विधानसभा में मंगलवार को अलग ही नजारा देखने को मिला। सदन में भाजपा विधायकों के बहिष्कार के बावजूद विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सी.पी.जोशी ने प्रश्नकाल पूरा कराया। प्रश्नकाल में अधिकांश सवाल भाजपा विधायकों के लगे हुए थे। लेकिन "छपाक" फिल्म को लेकर पूरक प्रश्न नहीं पूछने देने को लेकर अध्यक्ष की व्यवस्था से नाराज भाजपा विधायकों ने प्रश्नकाल का बहिष्कार किया।

इस दौरान प्रश्नकाल के सभी सवालों पर मंत्रियों से जबाव भी दिलाए। जोशी ने सवाल का जवाब देने के लिए मंत्रियों के नाम पुकारे। भाजपा विधायकों की ओर से लगाए गए सवाल पर खुद जोशी ने पूरक प्रश्न भी पूछे और कई मौकों पर मंत्रियों को सुझाव भी दिए। वरिष्ठ विधायकों का दावा है कि इस तरह का माहौल सदन में पहली बार देखने को मिला।

फिल्म "छपाक" को लेकर हुई तकरार

प्रश्नकाल के दौरान भाजपा विधायक शंकरलाल रावत ने छपाक फिल्म को टैक्स फ्री करने को लेकर सवाल पूछा था। इस पर मंत्रियों और भाजपा विधायकों के बीच तकरार हो गई। रावत ने पूछा था कि छपाक को टैक्स फ्री करने से राजस्थान को टैक्स रेवेन्यू का कितना नुकसान हुआ। संसदीय कार्यमंत्री शांति धारीवाल ने जवाब देते हुए बताया कि छह माह के लिए इस फिल्म को जीएसटी से कर मुक्त किया गया था।

उन्होंने बताया कि लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित इस फिल्म में एसिड अटैक पीड़िता के संघर्षपूर्ण जीवन और स्त्री सशक्तिकरण को दर्शाया गया है। इसी वजह से फिल्म को प्रदेश में कर मुक्त किया गया। इस पर रावत ने कहा कि फिल्म में दीपिका पादुकोण वही अभिनेत्री है जिसने दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विवि.में देश विरोधी नारे लगाने वालों का साथ दिया था। उन्होंने पूछा कि क्या इसी कारण फिल्म को कर मुक्त किया गया है। अध्यक्ष ने जेएनयू विवाद से जोड़कर सवाल पूछने से रोका तो भाजपा विधायकों ने आपत्ति की ।विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटािरया ने दखल दिया,लेकिन अध्यक्ष ने उन्हे रोका तो भाजपा विधायकों ने प्रश्नकाल का बहिष्कार कर दिया ।

खनन क्षेत्र में 965.97 करोड़ का राजस्व मिला

खान मंत्री प्रमोद जैन भाया ने प्रश्न काल में विधायक अविनाश के सवाल के जवाब में बताया कि जैतारण विधानसभा क्षेत्र में अप्रेल 2014 से दिसम्बर 2019 तक कुल 965.97 करोड का राजस्व प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा डिस्ट्रिक्ट मिनरल फाउण्डेशन ट्रस्ट में प्राप्त अंशदान से खनन प्रभावित क्षेत्रों में विकास कार्य राजस्थान डिस्टि्रक्ट मिनरल फाउण्डेशन ट्रस्ट रूल्स, 2016 में निहित प्रावधान के अनुसार करवाये जाते है।

वहीं कृषि एवं पशुपालन मंत्री लालचन्द कटारिया ने विधायक रामलाल शर्मा के सवाल का जवाब देते हुए बताया कि वर्ष 2019-20 में बजट घोषणा अन्तर्गत प्रदेश में 400 पशु चिकित्सा उपकेन्द्र खोले जाने प्रस्तावित हैं, जिसके तहत वर्तमान में 226 पशु चिकित्सा उपकेन्द्र स्वीकृत किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि पशु उपकेन्द्र खोलने के लिए मानदण्ड निर्धारित है। उन्होंने पशु चिकित्सा उपकेन्द्र खोलने के मानदण्ड की जानकारी सदन के पटल पर रखी।

खाद्य मंत्री रमेश मीणा ने मंगलवार को विधानसभा में बताया कि उदयपुर ग्रामीण क्षेत्र में कुल 88 उचित मूल्य की दुकाने स्वीकृत है। विधायक फूल सिंह मीणा के मूल प्रश्न के जवाब में बताया कि उदयपुर ग्रामीण क्षेत्र में स्वीकृत उचित मूल्य की दुकानों में 14 उचित मूल्य दुकाने अनावंटित है। उन्होंने अनावंटित दुकानों की सूची का विवरण सदन की मेज पर रखा। उन्होंने बताया कि जिले में नई उचित मूल्य दुकानों के आवंटन का कार्य शीघ्र ही पूरा कर लिया जाएगा।  

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस