जागरण संवाददाता, तरनतारन : सीमावर्ती गांव माछीके निवासी 35 वर्षीय विधवा महिला ने हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को शिकायत भेजी है। इसमें उसने कनाडा भेजने का झांसा देकर सात माह तक दुष्कर्म करने, ढाई लाख की राशि हड़पने, जान से मारने की धमकियां देने वाले आरोपित के विरुद्ध थाना पट्टी में दी गई शिकायत पर सुनवाई नहीं होने का आरोप लगाया है। महिला ने कहा कि यदि उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह जीवन लीला समाप्त करने लिए मजबूर होगी।

महिला ने बताया कि उसका पट्टी शहर में 15 वर्ष पहले विवाह हुआ था। उसकी एक बेटी है जो अब 13 वर्ष की है। जनवरी 2017 में उसके पति की मौत हो गई। वह अपने मायके गांव माछीके लौट आई। उसने आरोप लगाया कि दो वर्ष से वह पट्टी शहर में किराये के मकान पर रहती आ रही है। उसके पति के दोस्त ने हमदर्दी जताते हुए कहा कि इस स्थिति में उसकी बेटी का पालन पोषण करना आसान नहीं है। उस व्यक्ति ने अपने दोस्त से मिलवाते हुए कहा कि यह तुम्हें बेटी समेत कनाडा ले जाएगा। वह युवक खुद को कनाडा का नागरिक बताता था। उसने विवाह का प्रस्ताव रखा। आरोपित ने उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाने शुरू कर दिए। ये सिलसिला सात माह तक चला। आरोपित ने पासपोर्ट बनवाने और वीजा लगवाने के नाम पर उससे ढाई लाख की राशि बटोर ली, परंतु बाद में विवाह करवाने से इन्कार कर दिया। उन्हें पता चला कि वह युवक दो बच्चों का पिता है। पीड़िता ने बताया कि उसके मृतक पति के जायदाद के कागजात भी आरोपित युवक ने अपने कब्जे में ले लिए और अश्लील वीडियो बनाकर धमकी दी कि यदि जुबान खोली तो इस वीडियो को वायरल कर देगा। दो सप्ताह पहले उसने खाली कागजों पर अंगूठे भी लगवा लिए। इस बाबत थाना पट्टी में लिखित शिकायत भी दी गई, परंतु थाना प्रभारी अभी तक उसे इंसाफ दिलाने लिए कार्रवाई नहीं कर रहे। पीड़िता ने हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस से इंसाफ की गुहार लगाई है। दोनों पार्टियों को दिया जा रहा समय : थाना प्रभारी

थाना पट्टी के प्रभारी एसआइ लखबीर सिंह का कहना है कि शारीरिक शोषण करने, ढाई लाख की राशि हड़प करने बाबत एक शिकायत मिली है, जिसकी जांच के लिए दोनों पार्टियों को समय दिया जा रहा है। जांच के बाद रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेजी जाएगी, ताकि आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि जांच में कोई पक्षपात नहीं किया जा रहा है और न ही महिला से कोई मजाक किया गया है।

Edited By: Jagran