जागरण संवाददाता, तरनतारन : जिला परिषद और समिति चुनावों लिए नामांकन पत्र भरने के समय तहसील परिसर में कांग्रेस और शिअद के बीच हुए विवाद के बाद मामला तल्ख बना हुआ है। इस बीच कांग्रेस ने जिला परिषद की एक और ब्लॉक समिति की 13 सीटों पर बिना मुकाबला जीत दर्ज किया है। इधर, शिअद ने जिला परिषद व समिति चुनावों का बॉयकाट करने का फैसला किया है।

जिला परिषद और ब्लॉक समिति के चुनाव लड़ने लिए प्रत्याशियों की सूची सबसे पहले कांग्रेस द्वारा जारी की गई। इसके बाद शिअद ने हलका तरनतारन की सूची जारी की। आम आदमी पार्टी द्वारा दावा करने के बावजूद अपने उम्मीदवार मैदान में नहीं उतारे गए, जिसके बाद कांग्रेस ने ब्लॉक समिति की कुल 28 सीटों में से 13 सीटें बिना मुकाबला जीत ली। जबकि कोट धर्म चंद जोन से जिला परिषद के प्रत्याशी बिना निर्विरोध चुना गया। पूरे हलके की कमांड कांग्रेसी विधायक डॉ. धर्मबीर अग्निहोत्री द्वारा संभाली गई जबकि झब्बाल क्षेत्र में कांग्रेसी नेता डॉ. संदीप अग्निहोत्री ने संभाली।

बुधवार को पूर्व विधायक हरमीत सिंह संधू के आवास पर बैठक हुई जिसमें हलके के शिअद नेताओं व पार्षदों ने भाग लिया। बैठक में नगर कौंसिल के पूर्व अध्यक्ष भुपिंदर सिंह की मारपीट करके पगड़ी उतारने और उल्टा शिअद के नेताओं पर मामला दर्ज करने का विरोध जताते हुए चुनाव न लड़ने का फैसला लिया गया। हरमीत सिंह संधू ने कहा कि नामांकन पत्र से लेकर उनकी जांच पड़ताल और वापसी के दौरान लोकतंत्र का मजाक उड़ाते हुए शिअद प्रत्याशियों के कागजात रद किए गए हैं। यह सीटें जीती है कांग्रेस ने

कांग्रेसी नेता डॉ. संदीप अग्निहोत्री ने बताया कि जिला परिषद कोट धर्म चंद सीट से कांग्रेसी प्रत्याशी बिना मुकाबला विजेता रहा। जबकि समिति चुनावों में कैरोंवाल, पलासौर, झामका, कोट धर्म चंद, जौहल राजू सिंह, चीमा कलां, भुच्चर कलां, गग्गोबूहा, मीयांपुर, बुर्ज 169, खैरदीनके, गंडीविंड, ढंड की सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी बिना मुकाबले जीते हैं।

Posted By: Jagran