संवाद सहयोगी, तरनतारन : प्रदेश सरकार की ओर से स्कूलों में शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए लगातार प्रयत्न किए जा रहे है। इसी कड़ी तहत सरकारी स्कूलों से बच्चों को जोड़ने के लिए स्मार्ट स्कूल बनाए जा रहे हैं। जिले में 268 स्कूलों को स्मार्ट स्कूल बनाने का लक्ष्य है। यह जानकारी तरनतारन के विधायक डॉ. धर्मबीर अग्निहोत्री ने सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्मार्ट स्कूल के शुभारंभ मौके दी।

उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 248 स्कूलों को स्मार्ट स्कूल बना दिया गया है। जबकि बाकी के 20 स्कूलों को 31 मार्च तक स्मार्ट स्कूल में तब्दील कर दिया जाएगा। समागम के अंत में उपलब्धियां हासिल करने वाले स्कूल के विद्यार्थियों को पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया गया।

समागम मौके स्कूल के विद्यार्थियों ने विधायक डॉ. धर्मबीर अग्निहोत्री समक्ष स्कूल के साथ बनाई गई अवैध गोशाला का मामला उठाते कहा कि कई वर्षो से दुर्गध के चलते क्लास रूम की खिड़कियों को बंद रखना पड़ रहा है। विधायक डॉ. अग्निहोत्री ने बताया कि इस समस्या से जल्द ही निजात दिलाई जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!