संसू, खडूर साहिब : किसान-मजदूर संघर्ष कमेटी की ओर से गांवों में झंडा मार्च निकालकर लोगों को तीनों कृषि कानूनों के नुकसान से अवगत करवा केंद्र व राज्य सरकार का पुतला फूंका गया। सुखविदर सिंह दुगलवाला, सुखदेव सिंह शहाबपुर, बलजिदर सिंह शेरों, सुप्रीम सिंह पिद्दी ने कहा कि तीनों कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ किसानों का संघर्ष एक वर्ष से चल रहा है। इसका आने वाले दिनों में अच्छा नतीजा सामने आएगा। गांव शहाबपुर, पिद्दी, शेरों, बनवालीपुर, कलेर, बेगमपुर, दुगलवाला, झंडेर, रैशियाना, नौरंगाबाद, अलावलपुर, संघा, पंडोरी गोला, बागडि़या, कदगिल के बाद तरनतारन शहर से गुजरते हुए गांव अलादीनपुर में केंद्र व राज्य सरकार खिलाफ नारेबाजी की गई। गांव रसूलपुर में पुतला जलाते कहा गया कि केंद्र व राज्य सरकार की नीति किसानों को संघर्ष दबाने वाली है। इस मौके निर्मल सिंह, फतेह सिंह, सतनाम सिंह, संतोख सिंह कलेर, अमरजीत बाठ, बूटा सिंह संघा, प्यारा सिंह, दर्शन सिंह पंडोरी, कुलविदर सिंह नौरंगाबाद, सरमुख सिंह शेरों मौजूद थे।

Edited By: Jagran