संवाद सूत्र, खेमकरण : स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया (एसओआइ) माझा जोन के अध्यक्ष एडवोकेट गौरवदीप सिंह वल्टोहा ने कहा कि मेडिकल कॉलेजों की फीस में रिकॉर्ड तोड़ बढ़ोतरी करके मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का मन अभी नहीं भरा है। इसीलिए अब वह किसानों के ट्यूबवेल के बिल लगाने जा रहे हैं, जिसका जमकर विरोध किया जाएगा।

एडवोकेट वल्टोहा ने कहा कि बेटियों को 51 हजार रुपये का शगुन, विधवाओं को 2500 रुपये पेंशन, युवाओं को स्मार्ट फोन, घर-घर नौकरी देने का वादा करके कैप्टन ने सरकार तो बना ली, परंतु गरीबों की थाली से वह दाल छीन ली, जो बादल सरकार द्वारा दी जाती थी। लॉकडाउन के दौरान सस्ते दाम पर बांटी जाने वाली गेहूं जरूरतमंद परिवारों तक नहीं पहुंची, बल्कि कांग्रेसी समर्थकों के घरों में ही पहुंचाई गई। उन्होंने कहा कि किसानों को कर्जमाफी के नाम पर गुमराह करने वाली कांग्रेस सरकार अब ट्यूबवेल के बिल लगाने वाली है। अगर सरकार ने ऐसा किया तो पंजाब भर में सरकार की नाक में दम कर दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!