जागरण संवाददाता, तरनतारन : साढ़े तीन लाख की राशि लेकर अंतरराष्ट्रीय तस्कर मलकीत सिंह को छोड़ने वाले पंजाब पुलिस के इंस्पेक्टर बलजीत सिंह वड़ैच ने स्थानीय स्पेशल कोर्ट (एडिशनल सेशन जज कंवलजीत सिंह) में जमानत की अर्जी दायर की। इसमें उसने दावा किया कि अपने कार्यकाल के दौरान उसने कई नामवर तस्करों व गैंगस्टरों को पकड़ा है। कुछ पुलिस अधिकारी उनकी सर्विस देखकर बर्दाश्त नहीं करते थे। इसीलिए उसे झूठे मुकदमे में फंसाया गया। जमानत की अर्जी पर सुनवाई दौरान सरकारी वकील ने दलील देते हुए बताया कि तस्कर मलकीत सिंह की जमानत भी खारिज हो चुकी है। इंस्पेक्टर बलजीत सिंह वड़ैच का गुनाह संगीन है। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ करनी जरूरी है। इसके बाद अदालत ने इंस्पेक्टर बलजीत सिंह वड़ैच की जमानत अर्जी खारिज कर दी।

इंस्पेक्टर बलजीत सिंह वड़ैच ने विभाग के कांस्टेबल दविदर सिंह से मिलकर एक किलो हेरोइन समेत तस्कर मलकीत सिंह को गिरफ्तार किया था। बाद में कांस्टेबल दविदर के माध्यम से साढ़े तीन लाख की राशि लेकर इंस्पेक्टर बलजीत सिंह ने हेरोइन समेत तस्कर मलकीत सिंह को छोड़ा था। अब उसका पासपोर्ट भी किया जाएगा जब्त: एसएसपी

एसएसपी ध्रुमन एच निबाले ने बताया कि बर्खास्त इंस्पेक्टर बलजीत सिंह वड़ैच की चल-अचल संपत्ति की जांच की जा रही है। आरोपित विदेश न भाग जाए, उसके लिए अब उसका पासपोर्ट भी जब्त किया जाएगा। एसएसपी ने आगे कहा कि नशे के मामले में किसी तरह का भी लिहाज नहीं होगा। आरोपित बलजीत सिंह वड़ैच व तस्कर मलकीत सिंह की गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन किया जा चुका है।

Edited By: Jagran