जेएनएन, दिड़बा (संगरूर)

शिरोमणि अकाली दल द्वारा पंजाब सरकार के खिलाफ दो फरवरी को संगरूर में की जाने वाली रैली को लेकर विधानसभा हलका दिड़बा में हलका इंचार्ज गुलजार सिंह, पूर्व मंत्री बलदेव सिंह मान, पूर्व जिला प्रधान तेजा सिंह व पूर्व राष्ट्रीय जत्थेबंदक सचिव करन घुमाण के नेतृत्व में बैठक की गई। शिरोमणि अकाली दल के सीनियर नेता व जिला संगरूर के अब्जर्वर सिकंदर सिंह मलूका ने कहा कि पार्टी समुंद्र की तरह होती है। जिस प्रकार समुंद्र को एक दो बाल्टी पानी निकालने से कोई फर्क नहीं पड़ता है वैसे ही पार्टी से अगर दो व्यक्ति चले गए तो इसे र्कोइ फर्क नहीं पड़ेगा। सुखदेव सिंह ढींडसा व परमिदर सिंह ढींडसा को लोग नकार चुके हैं। बार बार हारने के बावजूद प्रकाश सिंह बादल ने ढींडसा को सदस्य संसद व परमिदर सिंह को कैबिनेट मंत्री के पद से नवाजा है, लेकिन अब वह पार्टी की पीठ में छुरा मार रहे हैं। एसजीपीसी प्रधान गोबिद सिंह लोंगोवाल ने कहा कि जिला संगरूर व बरनाला के वर्कर ढींडसा परिवार के पार्टी में से चले जाने से खुश हैं। इसलिए दो फरवरी की रैली में हलका दिड़बा से वर्कर बढ़-चढ़कर शिरकत करेंगे। जिला प्रधान इकबाल सिंह झूंदा ने कहा कि यह रैली कैप्टन सरकार व ढींडसा परिवार को हिलाकर रख देगी। इस मौके पूर्व मंत्री बलदेव सिंह मान, पूर्व राष्ट्रीय जत्थेबंदक सचिव करन घुमाण कनाडा, जत्थेदार तेजा सिंह कमालपुर, हलका इंचार्ज गुलजार सिंह, टकसाली नेता रघवीर सिंह, सीनियर नेता जवाहर सिंह, विनरजीत गोल्डी, श्रीराम छाजली, गुरलाल सिंह, रघवीर सिंह, जगमेल सिंह, हरजिदर सिंह, बिक्कर सिंह, संसार सिंह, बलकार सिंह, सतगुर सिंह, सुखविदर सिंह, अवतार सिंह आदि के अलावा बड़ी संख्या में अकाली वर्कर उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!