संवाद सूत्र, धूरी (संगरूर)। शुक्रवार को नजदीकी गांव ढढोगल व जैनपुर के मध्य में से गुजरने वाले रजबाहे में मिले गोवंश के अवशेषों से इलाके में सनसनी का माहौल है। गोवंश के अवशेष मिलने के बाद हिंदू संगठनों व हिंदू भाईचारे में भारी रोष है। पुलिस द्वारा अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच पड़ताल आरंभ कर दी गई है, वहीं हिंदू संगठनों की मांग की कि इस अपराध को अंजाम देने वाले व्यक्तियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

शनिवार को पंजाब गो सेवा कमीशन के चेयरमैन अशोक कुमार लक्खा मौके पर पहुंचे तथा पुलिस अधिकारियों से इस बाबत जानकारी प्राप्त की। चेयरमैन अशोक कुमार लक्खा ने कहा कि यह बेहद ही निंदनीय घटना है व उनकी तरफ से प्रशासन से बातचीत करके उक्त मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने पशुपालन विभाग व पुलिस अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।

उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा विश्वास दिलाया गया है कि उक्त घिनौने अपराध को अंजाम देने वाले व्यक्तियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा व आरोपितों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। लक्खा ने आसपास के लोगों से भी अपील की कि यदि किसी को इस घटना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त है तो वह पुलिस को इस बाबत आवश्यक सूचना दें।

उधर, विश्व हिंदू परिषद पंजाब, बजरंग दल के प्रधान विमल मित्तल ने कहा कि यह बेहद की निंदनीय घटना है। गोमाता पर पहली ही लंपी बीमारी की महामारी ने बेहद प्रकोप डाला है। अब इस घिनौनी घटना ने सभी को झिंझोर कर रख दिया है। ऐसे अपराध को अंजाम देने वाले व्यक्तियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। अगर जल्द ही इनकी पहचान करके इन्हें सजा न दी गई तो हिंदू समाज संघर्ष का राह अपनाने से गुरेज नहीं करेगा।

Edited By: SACHIN DHANJAS

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट