जागरण संवाददाता, संगरूर :

सरकारी दफ्तरों को पंजाब सरकार द्वारा घोषित की जाने वाली छुट्टियों के विरोध में बुधवार को साइंटिफिक अवेयरनेस एंड सोशल वेलफेयर फोरम की अगुआई में विभिन्न समाजसेवी संगठनों के प्रतिनिधियों ने जिला प्रबंधकीय परिसर के समक्ष धरना लगाया। इस मौके पर मांग की कि वर्ष भर में दो राष्ट्रीय छुट्टियां होनी चाहिए, जबकि 15 रिजर्व छुट्टियां रखी जानी चाहिए, ताकि कर्मचारी अपनी मर्जी से छुट्टी ले सकें।

फोरम के प्रधान डॉ. एएस मान, नशामुक्ति केंद्र रेडक्रास सोसायटी मोहन शर्मा, वृद्ध आश्रम बड़रूखां के प्रधान बलदेव ¨सह गोसल, अनिल गोयल लेक्चरर, बलराज बाजी, पर¨वदर ¨सह, सरकारी अध्यापक अमरीक ¨सह गागा ने कहा कि हर दिन होने वाली छुट्टियों के कारण जहां दफ्तरी कामकाज प्रभावित होता है, वहीं स्कूलों-कालेजों में पढ़ते बच्चों की पढ़ाई का भी भारी नुकसान होता है। ऐसे में छुट्टियां खत्म करके संबंधित दिन का प्रोग्राम स्कूलों व कालेजों में सुबह एक घंटा मनाया जाना चाहिए, ताकि बच्चों व नौजवान पीढ़ी को अपने इतिहास, सभ्याचार इत्यादि की जानकारी मिल सके। उक्त संगठनों ने मांग संबंधी एक मांग पत्र प्रशासन को सौंपा। इस मौके पर प्रो. संतोख कौर, प्रो. जगदेव ¨सह सोही, सुख¨वदर ¨सह, प्रहलाद ¨सह, निर्मल ¨सह, कर्नल कर¨मदर ¨सह, सुखवंत ¨सह, कुलदीप शर्मा, महेंद्र प्रताप, प्रो. श¨वदर कौर, सुख¨वदर पप्पी, मन¨जदर कौर बराड़, सुख¨वदर ¨सह ढडोली आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran