जेएनएन, मालेरकोटला (संगरूर)

जल सप्लाई व सेनीटेशन विभाग पंजाब में बतौर मास्टर मोटीवेटर पर मोटीवेटर अपनी सेवाएं निभा रहे वर्करों की ओर से अपनी मांगों को लेकर गांव संगाला की पानी की टंकी पर चल रहा धरना के 85वें दिन से जारी है। मोटीवेटर व मास्टर मोटीवेटर वर्कर यूनियन की शहीद सुरजीत सिंह, शहीद कर्मजीत सिंह मोटीवेटर संघर्ष कमेटी पंजाब के नेता सुखबीर सिंह चीमां, रविदरजीत सिंह गिल व बगा सिंह की अगुआई में मोटीवेटर रोजगार मेले में कैबिनेट मंत्री को काली झंड़ियां दिखाने के लिए जाते समय पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया, जिसके बाद मोटिवेटर रोड पर धरना लगाकर बैठ गए। उन्होंने कहा कि मालेरकोटला में लगाया गया मेगा रोजगार मेला सिर्फ एक दिखावा है, क्योंकि सरकार नए रोजगार देने का ड्रामा कर पहले से काम कर रहे वर्करों को बेरोजगार करने पर तुली हुई है। रोजगार मेले में कैबिनेट मंत्री रजिया सुल्ताना को काली झंडियां देखने जा रहे मोटीवेटर को पुलिस ने रास्ते में ही रोक लिया। यूनियन नेताओं से रजिया सुल्ताना की बैठक करर्वाइ गई, लेकिन बैठक में उन्होंने सिर्फ दो मिनट ही ठीक तरह से बातचीत की। वर्करों द्वारा अपनी मांगों संबंधी कैबिनेट मंत्री को रूबरू करवाया गया तो उन्होंने रोजगार मेले के जरिए नौकरी करने की बात कहकर बात कही। यूनियन नेता सिमरनजीत सिंह, बलजीत सिंह, हरदीप सिंह धूरी, कुलदीप सिंह ने कहा कि सरकार वर्करों को बिना शर्त पक्के करने के अपने वादे से मुकरी सरकार के खिलाफ मोटीवेटर यूनियन संघर्ष कमेटी द्वारा 21 सितंबर को पूरे पंजाब के मोटीवेटर वर्करों व अन्य सहयोगी जत्थेबंदियों के सहयोग से मालेरकोटला में रोष प्रदर्शन किया जाएगा। इस मौके पर यूनियन के मोहित अतरी, बलजीत सिंह जिला प्रधान मोगा, हरदीप सिंह धूरी, कुलदीप सिंह, गुरदीप सिंह, जीवन सिंह, सरबजीत सिंह, बलजिदर सिंह आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!