जागरण संवाददाता, संगरूर : लोकसभा चुनाव के हुए मतदान के बाद ईवीएम मशीनों को धूरी के नजदीक देश भक्त कालेज बरड़वाल में सुरक्षित रखा गया है। तीन स्तर पर जहां सुरक्षा कर्मी तैनात हैं, वहीं साथ ही आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता देश भक्त कालेज बरड़वाल के बाहर टेंट लगाकर अपने स्तर पर सुरक्षा पर नजर रखे हुए हैं। विधानसभा में विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा भी बुधवार को उक्त पार्टी वर्करों के साथ उक्त जगह पर पहुंचे व उन्होंने पार्टी वर्करों का हौसला बढ़ाया। हरपाल चीमा ने कहा कि देश भर में ईवीएम मशीनों को बदलने व हैक करने के सवाल उठ रहे है, जिस कारण ईवीएम पर बवाल मचा हुआ है। ईवीएम मशीनों संबंधी 21 पार्टियों के नेता भी एकजुट होकर राष्ट्रपति से मुलाकात कर चुके हैं व सुप्रीम कोर्ट में भी अर्जी दायर की है। देश में मोदी की सरकार को कोई भी दोबारा सत्ता में नहीं देखना चाहता, जबकि मोदी सरकार ईवीएम मशीनों में हेरफेर करवाकर फिर से सत्ता में आने की साजिश रच रही है। उन्होंने कहा कि मतदान ईवीएम की बजाए बैल्ट पेपर की मदद से करवाने की मांग पिछले लंबे समय से उठ रही है। बैल्ट पेपर की मदद से चुनाव बेहद सुरक्षित है। पार्टी के वालंटियर अपने स्तर पर ईवीएम मशीनों की सुरक्षा पर नजर जमाए हुए हैं।

Posted By: Jagran