संवाद सूत्र, संगरूर

सिविल सर्जन संगरूर डा. अंजना गुप्ता ने मिशन फतेह किट संबंधी समूह एसएमओ से अपील की कि कोरोना पाजिटिव मरीज को रैपिड रिस्पांस टीमों द्वारा फतेह किट देते समय मरीज या उसके पारिवारिक सदस्यों के सामने खोला जाना चाहिए। किट में जरूरी दवाओं व अन्य सामान के प्रयोग के बारे में मरीज को जानकारी दी जाए, ताकि होमआइसोलेट मरीज को किसी प्रकार की परेशान न हो। उन्होंने एसएमओ को फतेह किट में कोई कमी पाए जाने पर उसे तुरंत दूर करने के आदेश जारी किए।

उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के चलते जब कोई मरीज पाजिटिव आ जाता है तो पंजाब सरकार की ओर से उसे जरूरी दवाओं व उपकरणाों से लैस किट दी जाती है। इसमें थर्मामीटर, विटामिन की गोलियां, प्लस मीटर इत्यादि जरूरी सामान होता है, ताकि मरीज अपना इलाज ठीक तरह से करवा सके। उन्होंने लोगों से अपील की कि ठीक होने वाले मरीज तुरंत किट में मौजूद प्लस मीटर नजदीकी सेहत संस्था पर जमा करवाएं, ताकि उसे किसी दूसरे मरीज को दिया जा सके।