संवाद सूत्र, धूरी (संगरूर) : भारती किसान यूनियन राजेवाल ब्लॉक धूरी व शेरपुर की बैठक प्रधान निर्मल सिंह व प्रधान प्रीतम सिंह के नेतृत्व में हुई। किसानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार पराली को आग लगाने पर पूरी तरह से सख्त है, लेकिन पंजाब सरकार द्वारा किसानों को पराली की संभाल के लिए किसी प्रकार का मुआवजा नहीं दिया जा रहा है और न ही पराली का प्रबंधन करने के लिए किसी प्रकार की मशीनरी उपलब्ध करवाई गई है। ऐसे में किसानों के पास पराली को आग लगाने के सिवाय व कोई दूसरा रास्ता नहीं है। प्रधान प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार किसानों को पराली की संभाल के लिए 200 रुपये प्रति क्विटल बोनस या 6 हजार रुपये प्रति एकड़ माली सहायता जारी करे, ताकि किसान समय पर गेहूं की कुआई कर सकें। अन्यथा किसान पराली को आग लगाने के लिए मजबूर होगें, जिसकी जिम्मेदार पंजाब सरकार होगी। इस मौके पर राज्य सचिव निरंजन सिंह, जीत सिंह, जरनैल सिंह, गुरबचन सिंह, गुरजीत सिंह, गुरमुख सिंह, बावा सिंह, मलकीत सिंह, दलबारा सिंह, कौर सिंह, रणधीर सिंह, दीदार सिंह आदि किसान नेता उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!