जागरण संवाददाता, संगरूर :

गांव बड़रुखां में मौजूद बाबा काहन सिंह के डेरे पर शुक्रवार शाम को गांव के किसान की हत्या करने के मामले में पुलिस ने जांच-पड़ताल उपरांत डेरे के प्रमुख साधु व उसके साथी पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया। शनिवार को सिविल अस्पताल संगरूर में मृतक का तीन डाक्टरों के बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया। उक्त केस में शनिवार को उस समय नया मोड़ आ गया, जब हत्या के मामले में नामजद आरोपित को काबू करके बड़रूखां चौकी में लाया गया, लेकिन जब उसका भाई उससे मिलने के लिए आया तो वह मौके से फरार हो गया। पुलिस ने उसके भाई को हिरासत में ले लिया, जिसके बाद आरोपित को भी गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने हत्या के उक्त मामले सहित आरोपित के भाई के खिलाफ भी अलग से मामले दर्ज कर लिया।

शुक्रवार को गांव बड़रुखां निवासी मल्ल सिंह अपने खेतों में से वापस आते हुए रास्ते में पड़ते बाबा काहन सिंह के डेरे पर पानी पीने के लिए रुका। यहां डेरे के प्रमुख साधु परमजीत सिंह व सीरा पुत्र गुरदेव सिंह निवासी बड़रूखां से मल्ल सिंह की किसी को लेकर तकरार हो गई। साधु व सीरा सिंह के बीच हुई हाथापाई के कारण मल्ल सिंह की मौत हो गई। पुलिस ने बलजीत सिंह पुत्र कृपाल सिंह, मृतक के पुत्र संदीप सिंह उर्फ सन्नी व इंद्रजीत सिंह के बयानों के आधार पर साधु परमजीत सिंह व सीरा सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया। साधु परमजीत सिंह को शुक्रवार रात्रि ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, जबकि सीरा सिंह फरार था। शनिवार सुबह सीरा सिंह को हिरासत में लेकर बड़रुखां चौकी लाया गया, जहां अभी उसकी गिरफ्तारी डाली भी नहीं गई थी। सीरा सिंह का भाई उससे मिलने पहुंचा, जहां सीरा सिंह अचानक चकमा देकर फरार हो गया। इसकी भनक लगते हैं कि पीड़ित परिवार सहित किसान मोर्चा पंजाब के कार्यकर्ता दर्शन सिंह, मेजर सिंह, नछत्तर सिंह, सरपंच कुलजीत सिंह समेत भारी गिनती में ग्रामीण मौके पर जमा हुए। उन्होंने सीरा सिंह को तुरंत गिरफ्तार करने व उसके भाई के खिलाफ भी मामला दर्ज करने की मांग की। पुलिस ने सीरा सिंह के भाई को तुरंत हिरासत में ले लिया। करीब दो घंटे के बाद सीरा सिंह को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने परमजीत सिंह व सीरा सिंह के खिलाफ हत्या के दर्ज मामले के अलावा सीरा सिंह के भाई के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई आरंभ कर दी।

उधर, इसकी पुष्टि करते हुए एसपी (एच) गुरमीत सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हत्या के मामले में साधु परमजीत सिहं को गिरफ्तार कर लिया गया था। सीरा सिंह को शनिवार को बड़रूखां चौकी में लाया गया था, जहां उसका भाई बड़रूखां चौकी में उसे दवा देने के लिए पहुंच गया, जहां से सीरा सिंह फरार हो गया, लेकिन पुलिस ने उसे कुछ ही समय में गिरफ्तार कर लिया। सीरा सिंह के भाई के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाएगा। कानूनन बनती सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!