जागरण संवाददाता, संगरूर :

जिला संगरूर में पराली जलाने के सबके अधिक मामले समाने आने के बाद पुलिस व प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है और किसानों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है।

डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि प्रशासन ने सरकार की हिदायतों मुताबिक पंजाब पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों ने एसडीएम की देखरेख में कार्रवाई करते हुए अदालतों में 83 किसानों के खिलाफ एनवायर्नमेंट एक्ट की धारा 39 के उल्लंघन पर क्रिमिनल केस दायर करवाए गए हैं। जिसके तहत कसूरवार को तीन की सजा व जुर्माने का प्रावधान है। वहीं, पराली न जलाने वाले किसानों को मुआवजा देने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। समूह उपमजिस्ट्रेट द्वारा प्राप्त दर्खास्त की जांच कर योग्य आवेदकों के आवेदनों को सरकार के पोर्टल पर अपलोड कर दिया गया है।

मालेरकोटला के एसडीएम विक्रमजीत पांधे ने किसानों को पराली न जलाने संबंधी जागरूक करने के तहत शुरू किए दौरे में दो किसानों को पराली जलाने पर पर्चा दर्ज किया है। एसडीएम ने अपने काफिले के साथ जाते हुए गांव खानपुर व गांव सरोद का दौरा किया। उन्होंने किसान आकाशदीप सिंह व लखवीर सिंह को पराली को आग लगाते हुए देखा। लेकिन पुलिस अधिकारियों को देखते ही दोनों किसान मौके से फरार हो गए। उन्होंने बताया कि दोनों किसानों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

उधर, पराली जलाने वालों के खिलाफ शुरू की गई मुहिम के तहत एसडीएम सतवंत सिंह द्वारा विभागीय अधिकारियों के साथ विभन्न गांवों का दौरा किया गया। इस दौरान किसानों को पराली न जलाकर पर्यावरण की प्रदूषण से बचाने में अपना योगदान देने के लिए प्रेरित किया। इसके अलावा पराली न जलाने वाले किसानों की हौसला अफजाई भी की। गांव भदलवड़, भोजोवाली, मीरहेड़ी, पलासौर आदि गांवों का दौरे के दौरान गांव भदलवड के बगैर पराली जलाए गेंहू की बिजाई वाले किसानों की प्रशंसा की गई। उन्होंने कहा कि ऐसे किसानों को सरकार द्वारा जल्द मुआवजा राशि मुहैया करवाई जाएगी। इस अवसर पर तहसीलदार हरजीत सिंह, नायब तहसीलदार कर्मजीत सिंह, थाना सदर धूरी हरविदर सिंह,बहादर सिंह, जगदेव सिंह, हरचंद सिंह, हरभजन सिंह, संदीप मडाहर व अन्य प्रशासिक अधिकारी उपस्थित थे।

तीन नंबरदार किए मुअत्तल

संगरूर : पराली जलाकर सरकार के आदेशों का उल्लंघन करने वाले तीन नंबरदारों को जिला प्रशासन की ओर से मुअत्तल कर दिया गया है। डीसी थोरी ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों पर पंजाब सरकार द्वारा पराली जलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। ऐसे दौर में अगर कोई सरकारी मुलाजिम, नंबरदार नियमों का उल्लंघन करता पाया गया तो उनके खिलाफ भी कोई नरमी नहीं बरता जाएगी। एसडीएम मालेरकोटला की सिफारिश पर गांव राणवां के नंबरदार अजमेर सिंह, गांव नारीके के नंबरदार कुलवीर सिंह, एसडीएम अहमदगढ़ की सिफारिश पर गांव धनेर कलां के नंबरदार सरबजीत सिंह को ड्यूटी में कोताही बरतने, सरकार के आदेशों का उल्लंघन करने पर तीनों को पद से मुअत्तल निलंबित कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!