जागरण टीम, रूपनगर, श्री आनंदपुर साहिब: पंजाब सरकार की ओर से जारी कोरोना गाइडलाइन के अनुसार सोमवार से नर्सरी कक्षा से नौवीं कक्षा तक करीब डेढ़ साल से अधिक समय के बाद स्कूल खुलने से स्कूलों में रौनक लौट आई है। सोमवार को पहले दिन पहली कक्षा से पांचवीं तक बच्चों की हाजिरी 77 के आसपास रही इसके अलावा देहाती इलाकों में विद्यार्थियों की हाजिरी 60 फीसद से ज्यादा रही। शहरी इलाकों के सरकारी स्कूलों और प्राइवेट स्कूलों में विद्यार्थियों की तादाद कम रही है। उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के कारण साल 2020 के मार्च माह में सभी स्कूल बंद कर दिए गए थे और कुछ समय पहले ही 10वीं 11वीं एवं 12वीं के बच्चों को स्कूल में आने की अनुमति दी गई थी। अब कक्षाओं को पूरी तरह से खोलने के बाद सोमवार को जिले में नर्सरी से नौवीं कक्षा तक के बच्चे बहुत ही उत्साह के साथ स्कूल आए। स्कूल में आने पर अध्यापकों ने भी उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। स्कूल में आए सभी बच्चों ने मास्क पहने हुए थे और उनको शारीरिक दूरी बनाए रखने सहित बार-बार सैनिटाइजर का प्रयोग करने की हिदायत भी स्कूल प्रबंधकों ने दी। जिला शिक्षा अफसर प्राइमरी जरनैल सिंह,उप जिला शिक्षा अफसर चरणजीत सिंह सोढ़ी एवं रंजना कटियाल ने बताया कि बच्चे बहुत ही उत्साह के साथ स्कूल में आए । अध्यापकों तथा बच्चों ने कोरोना महामारी के सरकारी आदेशों का पालन भी विशेष तौर पर किया गया। उन्होंने बताया कि अप्रैल से जुलाई तक का पाठ्यक्रम पहले ही आनलाइन विद्यार्थियों को करवा दिया गया था। इसलिए आगे पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को जोड़ना आसान होगा।

Edited By: Jagran