संवाद सहयोगी, रूपनगर: रूपनगर में युवा ब्राह्मण सभा ने सभा अध्यक्ष पंडित ज्वाला प्रसाद रत्ती के नेतृत्व में कोविड नियमों के दायरे में रहते हुए भगवान परशुराम जी की जयंती श्रद्धापूर्वक मनाई। शुक्रवार सुबह सबसे पहले मंत्रोच्चारण के बीच भगवान का आभिषेक किया गया जिसके बाद सुंदर वस्त्रों का श्रंगार किया गया। इस मौके सभा के सारे सदस्यों ने मिलकर विश्व कल्याणा की कामना के साथ हवन यज्ञ किया व पूर्णाहूति डाले जाने के बाद भगवान को प्रसाद का भोग लगाते हुए भारत देश को कोरोना संकट से मुक्ति दिलाने की प्रार्थना की गई।

इस मौके सभा के अध्यक्ष पंडित ज्वाला प्रसाद रत्ती ने समूह देश वासियों को बधाई देते हुए कहा कि कोरोना एक महामारी है जिसका दायरा गंभीर रूप से बढ़ता जा रहा है। उन्होंने आम लोगों के साथ साथ समूह धार्मिक संगठनों से अपील की कि इस महामारी से छुटकारा पाने की कामना लेकर हवन यज्ञ किए जाएं। उन्होंने यह भी कहा कि जो मंदिर या धार्मिक संस्थाएं प्रशासन के अधीन काम करती हैं उनके स्टाफ को चाहिए कि वे भी उच्च अधिकारियों को जनहित में हवन यज्ञ करवाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने लोगों से हर दिन श्री दुर्गा सप्तशती के श्लोक जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी, दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते का जाप करने के लिए प्रेरित भी किया। उन्होंने दावा किया कि अगर लोग अपने घरों में रहते हुए रोजाना इस पाठ का जाप करें तो निश्चित रूप से भारत वर्ष जल्द कोरोना संकट से मुक्ति पा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि हर किसी को पुलिस, प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के आभारी होना चाहिए, जो अपनी व अपने परिवारों की जान की परवाह किए बगैर कोरोना के साथ सीधी लड़ाई में शामिल हो आम लोगों को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। इस मौके कोविड नियमों का पालन करते हुए प्रसाद भी वितरित किया गया।