संवाद सहयोगी, रूपनगर

रूपनगर में पंजाब रोडवेज व पनबस कर्मचारियों द्वारा संयुक्त एक्शन कमेटी की कॉल पर सरकार व रोडवेज मैनेजमेंट के खिलाफ गेट रैली की गई तथा कर्मचारियों की मांगों को प्रमुखता के साथ उठाया गया। इस मौके बोलते कंडक्टर यूनियन पंजाब के महासचिव गुरदयाल ¨सह तथा प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एटक गुरदेव ¨सह ने रोष जताते हुए कहा कि गत 21 मई 2018 को पंजाब रोडवेज की संयुक्त एक्शन कमेटी को राज्य के परिवहन मंत्री द्वारा भरोसा दिलाया गया था कि जल्द ही बैठक करते हुए कर्मचारियों की मांगों का समाधान कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस भरोसे के बाद कर्मचारी शांत तो हो गए लेकिन आज तक बैठक नहीं हो सकी है जिसके चलते राज्य भर में पंजाब रोडवेज व पनबस कर्मचारियों में गहरा रोष पाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इसी रोष का परिणाम है जो आज राज्य के सारे डिपो इसी प्रसार सरकार व परिवहन मंत्रालय के खिलाफ गेट रैलियां कर रहे हैं। उन्होंने मांग की कि रोडवेज में ठेकेदारी सिस्टम को स्थाई रूप से बंद करते हुए जो कर्मचारी ठेका प्रणाली के तहत काम करते आ रहे हैं उन्हें बिना देरी विभाग में स्थाई किया जाए। उन्होंने कर्ज मुक्त हो चुकी पनबस की सारी बसों का स्टाफ सहित पंजाब रोडवेज के बेड़े में विलय करने की मांग के साथ साथ जब तक ठेका कर्मियों को स्थाई नहीं किया जाता उस वक्त तक वेतन संबंधी हुए समझौते के तहत वेतन में बढ़ोतरी की जाए। उन्होंने विभाग अंदर फैले भ्रष्टाचार पर स्थाई रूप से रोक लगाने के अलावा 1990 वाली ट्रांसपोर्ट पालिसी लागू करने, इसके अलावा बदले की नीयत से किए जाने वाले तबादलों पर रोक लगाने की मांगें भी जोरदार ढंग से उठाई। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर उनकी मांगों को मंजूर नहीं किया गया तो आने वाले दिनों में राज्य के सारे बस स्टेंड बंद करते हुए जहां दो घंटे की हड़ताल की जाएगी वहीं परिवहन मंत्री के पुतले भी फूंके जाएंगे। गेट रैली के दौरान डोप टेस्ट का भी विरोध किया गया। इस मौके प्रदेश के संयुक्त सचिव एटक तरलोचन ¨सह सहित प्रदेश सचिव कर्मचारी दल बलदेव ¨सह, प्रदेश सचिव इंटक जगजीत ¨सह, अध्यक्ष एटक बल¨वदर ¨सह, महासचिव एटक रा¨जदर ¨सह गोनी, महासचिव एससीबीसी पाल ¨सह, कंडक्टर यूनियन अध्यक्ष सर्बजीत ¨सह, महासचिव कंडक्टर यूनियन गुरजीत ¨सह, अध्यक्ष कर्मचारी सर्बजीत ¨सह, महासचिव मिनिस्ट्रीयल स्टाफ र¨वदरपाल ¨सह, अध्यक्ष इंटक सुख¨जदर ¨सह तथा महासचिव हरप्रीत ¨सह आदि ने भी विचार रखे।

By Jagran