जागरण संवाददाता, रूपनगर: आ देखो आ बंदा कुंडी लांदा..। मेरे कपड़े पाड़े इस बंदे ने..। मेरे नाल हत्थापाई हुंदा। तैनूं मैं दसूंगा आन ड्यूटी मुलाजिम नाल हत्था पाई..। आ देखो तारां सरेआम पइयां, कुंडी लाउंदा बंदा, मोटर चला रिहा। ये शब्द हैं पावरकाम रूपनगर के जेई पंकज कुमार के। पंकज कुमार ने मौके पर खुद वीडियो बनाई है और जिस घर में वो कुंडी कनेक्शन (बिजली चोरी) पकड़ने गए थे वहां परिवार के सदस्य उसे वीडियो बनाने से रोक रहे हैं और उसके आरोपों को झूठ करार दे रहे हैं। यही नहीं, परिवार के सदस्य भी मौके पर जेई की मोबाइल पर वीडियो रिकार्ड कर रहे हैं। ये घटनाक्रम वीरवार सुबह दस बजे के आसपास का है। सिविल अस्पताल में दाखिल जेई पंकज कुमार ने बताया कि मीयांपुर सब डिवीजन में तैनात है। वह गांव सैंफलपुर में करनैल सिंह के घर बिजली चोरी का मामला पकड़ने के लिए गए थे। जेई ने बताया कि गांव के लोग कई दिनों से शिकायत कर रहे थे कि करनैल सिंह कुंडी लगाकर बाड़े में लगा सबमर्सिबल पंप चलाता है। वीरवार को दोबारा शिकायत आई और वो मौके पर अपनी टीम को साथ लेकर चले गए। विभाग की टीम को देखकर करनैल सिंह ने कुंडी खोल दी और उनके साथ हाथापाई करने लगे। धक्के मारे और कपड़े फाड़ दिए। उनके काम में खलल डालने पर जब उन्होंने मौके पर कैमरे में वीडियो बनाने शुरू की तो परिवार की महिला को आगे करके उन्हें वीडियो बनाने से रोका। उनका कैमरा भी इस धक्कामुक्की में गिर गया और कैमरा खराब हो गया। जेई ने कहा कि करनैल सिंह के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए लिख दिया गया है। जल्द ही करनैल सिंह का बिजली का कनेक्शन काट दिया जाएगा। जेई द्वारा मीडिया को उपलब्ध करवाई एक वीडियो में परिवार के सदस्य विभाग के मुलाजिम को बाड़े में दाखिल होने से रोका है और मौके पर बिजली की तारों को एक तरफ करता है। वीडियो बनाने वाला कह रहा है कि आप तारें इकट्ठी कर कर लो। हम वीडियो बना रहे हैं। एक वीडियो में महिला भी वीडियो बनाने से रोकती है और प्यार से बात करने के लिए कहती है। मेरी पत्नी को टीम के सदस्यों ने धक्के मारे: करनैल सिंह दूसरी तरफ, करनैल सिंह ने पक्ष दिया कि वह गुरुद्वारा साहिब गया था और वहां से आकर सो गया। करनैल सिंह ने कहा कि उसकी पत्नी दिल की मरीज है। वीरवार सुबह एकदम बिजली विभाग की टीम आई और वीडियो बनाने लग गए और बहस करने लगे। करनैल सिंह ने आरोप लगाया कि टीम के सदस्यों ने उसकी पत्नी को धक्का मारा, जिससे वो जमीन पर गिर गई। अगर टीम में सरकारी मुलाजिम थे तो उन्हें पहले आकर अपने बारे में बताना चाहिए था। लेकिन वो सीधे बाड़े के भीतर दाखिल हो गए। करनैल सिंह ने आरोप लगाया कि जेई लोगों से रिश्वत मांगता है। जेई लगाए आरोप बेबुनियाद : मुलाजिम नेता वहीं टेक्नीकल सर्विसेज यूनियन रूपनगर के नेता सुरिदर सिंह और इंप्लाइज फैडरेशन के सर्किल प्रधान मेजर सिंह ने कहा कि जेई पंकज कुुमार पर करनैल सिंह द्वारा लगाए आरोप बेबुनियाद हैं। जेई शिकायतों के बाद ही बिजली चोरी का मामला जांचने गए थे।

Edited By: Jagran