जागरण संवाददाता, नंगल : नशे के खिलाफ जारी प्रयासों के तहत करवाई गई 10वीं नरेंद्रा ओपन स्टेट बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप संपन्न हो गई। स्टाफ क्लब ग्राउंड में करीब 6 घंटे तक चली इस प्रतियोगिता में लगभग 100 बॉडी बिल्डरों ने अपने बाहुबल का प्रदर्शन किया। चैंपियनशिप में बरनाला का जगजीत सिंह जैकी ओवरऑल विजेता बना।

वहीं जालंधर का हीरा लाल ओवरऑल चैंपियनशिप में दूसरे स्थान पर रहा। खेल प्रेमियों से खचाखच भरे क्लब के मैदान में कुछ बिल्डरों ने अपने अंदाज में नशे के विरुद्ध गीत पेशकर युवाओं को संदेश दिया कि सभी बॉडी बिल्डरों की तरह फौलादी बनने के लिए प्रयत्नशील रहें तथा नशाखोरी के विरुद्ध लोगों को जागरूक भी करते रहें। कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित हुए श्री आनंदपुर साहिब के उप पुलिस अधीक्षक रमिंदर सिंह काहलों ने विजेता बॉडी बिल्डरों को स्मृति चिन्ह व नकद पुरस्कार देकर सम्मानित किया। भाखड़ा बांध के डिप्टी चीफ इंजीनियर एचएल कंबोज, एनआरआइ जत्थेदार रणजीत सिंह के अलावा बीबीएमबी के वरिष्ठ लेखा अधिकारी अरूण दीवान ने विजेताओं को नकद पुरस्कार से सम्मानित करते कहा कि युवाओं को सही दिशा की ओर ले जाने के लिए खेलों जैसे आयोजन बेहद जरूरी हैं। इस अवसर पर क्लब के प्रतिनिधियों विनय पुरी, अतुल पुरी, चरनजीत चन्नी, अविनाश, सुनील कुमार, परमजीत सिंह, सुभाष चंद्र, सुदेश चंदेल, इंद्र पाल सिंह चढ्डा भी मौजूद थे। चैंपियनशिप में विशेष रूप से उपस्थित हुए मिस्टर इंडिया आदित्य बंटी होशियारपुर ने भी अपना प्रदर्शन करते हुए खेल प्रेमियों का दिल जीत लिया। उन्होंने कहा कि पंजाब का हमेशा से ही पूरे विश्व में अलग नाम रहा है। इसलिए बॉडी बिल्डर मेहनत को जारी रखते हुए नशे के विरुद्ध युवाओं को जागरूक करते रहें।

अलग-अलग भार वर्ग के मुकाबलों के परिणाम

चैंपियनशिप में विजेताओं का चयन करने के लिए निर्णायक मंडल में बॉडी बिल्डर प्रदीप कुमार, रमेश कुमार, महेंद्र सिंह, गुरसेवक शाबी, अमनदीप, फिरोज बख्शी, भीम बलजोत, जाहन बेदी, ईशर सिंह, लखविंदर सिंह शामिल थे। उनकी ओर से घोषित परिणामों में शुभम शर्मा को 55 किलोग्राम वर्ग के मुकाबले में विजेता घोषित किया गया। 65 किलोग्राम में परमिंदर सिंह, 70 किलोग्राम में हीरा लाल, 75 किलोग्राम में राम कुमार, 80 किलोग्राम से ऊपर के वजन वाले मुकाबलों में जगजीत सिंह जैकी ने गोल्ड मेडल हासिल किया।

Posted By: Jagran