संवाद सूत्र, मोरिडा: ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा पंजाब के बैनर तले मुख्यमंत्री के शहर मोरिडा में पक्का मोर्चा लगातार जारी है। इस मोर्चे को लगे दो माह से अधिक समय हो गया है। बुधवार को ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा पंजाब की बैठक गुरविदर सिंह पन्नू की अध्यक्षता में हुई। इसमें वरिदर सिंह मोमी, जगरूप सिंह लहरा, बलिहार सिंह कटारिया, शेर सिंह खन्ना, वरिदर सिंह बीबीवाल, महिदर सिंह रोपड़, हरदेव सिंह व सेवक सिंह की दंदीवाल ने भाग लिया। बैठक में संघर्ष प्रोग्राम के बारे चर्चा करने के साथ साथ पंजाब मंत्रीमंडल की ओर से पास किए पंजाब प्रोटेक्शन एंड रेगुलराइजेशन आफ कांट्रैक्टचुअल इंप्लाइज बिल 2021 को रद करने की मांग की गई। वक्ताओं ने कहा कि आउटसोर्स व ठेका मुलाजिमों को बिना शर्त व बिना पक्षपात के रेगुलर होने के अधिकार की प्राप्ति हेतु पहले से जारी संघर्ष को आगे जारी रखा जाएगा। पंजाब सरकार ने इन अस्थायी मुलाजिमों की संख्या 36000 दिखाई गई है, जबकि सवा लाख मुलाजिम ऐसे हैं, जिनका सेवाकाल 10 वर्ष या इससे भी अधिक है । इसके बावजूद उनको रेगुलर करने के घेरे से बाहर कर दिया गया है। नेताओं ने पंजाब के समूह ठेका मुलाजिमों से अपील की कि वह सरकारी प्रचार के बहकावे में न आएं।

Edited By: Jagran