संवाद सहयोगी, रूपनगर: लोगों को स्वाइन फ्लू से बचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से सतर्क हो गया है । सिविल सर्जन डा. परमिदर कुमार ने जिलावासियों को स्वाइन फ्लू से सतर्क रहने की अपील की है। इसके लक्षण, बचाव, जांच तथा उपचार के बारे बताया कि इसका पूरा उपचार संभव है, लेकिन इसे हल्के में लेना घातक साबित हो सकता है। तेज बुखार का होना, खांसी व जुकाम का होना, छींके आना, नाक का बहना, गले में दर्द का होना, सांस लेते वक्त तकलीफ का होना, छाती में दर्द होना, थूक में रक्त आना स्वाइन फ्लू के लक्ष्ण हो सकते हैं। इसका तुरंत इलाज करवाना जरूरी है जोकि सभी सरकारी अस्पतालों में पूरी तरह से मुफ्त किया जाता है, जबकि दवाइयां भी मुफ्त दी जाती हैं।

Edited By: Jagran