जागरण संवाददाता, रूपनगर

आइआइटी रोपड़ ने कोविड-19 (कोरोना) संभावित संक्रमण के डर के मद्देनजर सभी कोर्स की पढ़ाई ऑनलाइन करवाने की घोषणा की है। बीटेक, एमटेक, एमएससी और पीएचडी के छात्रों के लिए करीब 150 कोर्स रिकॉर्ड किए जाएंगे और इन्हें गूगल क्लास रूम प्लेटफॉर्म से छात्रों को उपलब्ध करवाया जाएगा। यह लेक्चर केवल एक निर्धारित कोर्स में पंजीकृत हुए छात्रों के लिए ही उपलब्ध होंगे। पहले चरण में रिकॉर्ड किए लेक्चर छात्रों को उपलब्ध करवाए जाएंगे, जिन्हें छात्र अपनी सुविधा व अपने समय अनुसार डाउनलोड कर देख सकते हैं। प्रथम चरण के सफलतापूर्वक संपन्न होने उपरांत आइआइटी रोपड़ दूसरे चरण पर काम करना शुरू कर देगा, जिसमें छात्रों की समस्याओं के समाधान हेतु संबंधित फैकल्टी सदस्यों के साथ वार्ता की सुविधा भी उपलब्ध होगी।आइआइटी रोपड़ के निदेशक प्रोफेसर सरित कुमार दास ने कहा कि आइआइटी रोपड़ मैसिव ओपन आनलाइन कोर्स मॉडल का उपयोग करते हुए ऑनलाइन कोर्स प्रदान करने की योजना बना रहा है। यह पाठ्यक्रम अकादमिक नुकसानपूर्ति के लिए आंशिक समाधान होगा। केंद्रीय मंत्रियों के समूह के हाल ही में जारी दिशा निर्देशों के बाद कदम उठाया जा रहा है। ऐसे तैयार होंगे लेक्चर स्क्रीन कैप्चरिग सॉफ्टवेयर की सहायता से लेक्चर रिकॉर्ड किए जाएंगे। इसमें एक टैबलेट का इस्तेमाल कर पावर प्वाइंट या हस्त लिखित स्क्रिप्ट शामिल होगी, जोकि ब्लैक बोर्ड से पढ़ने की भांति होगी। इसे ऑडियो के साथ जारी किया जाएगा। देश भर में इंटरनेट के स्थान और पहुंच को ध्यान में रखते हुए फाइल का साइज घटा कर रिकॉर्ड किए गए व्याख्यानों में ऑडियो के साथ जुड़ी शिक्षा सामग्री शामिल होगी। यह देश के किसी भी कोने में बैठे किसी भी छात्र को आसानी से उपलब्ध हो सकेगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!