संवाद सहयोगी, नूरपुरबेदी: भारतीय सेना की 112 इंजीनियरिग रेजीमेंट में तैनात गांव सरथली के सैनिक संदीप सिंह की हादसे में मौत हो गई। उसका अंतिम संस्कार शुक्रवार को पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया गया। मृतक संदीप सिंह पुत्र प्यारा सिंह गांव सरथली के पारिवारिक सदस्यों ने बताया कि संदीप सिंह पश्चिमी बंगाल सिलिगुड़ी में तैनात था। एक फरवरी को वह एक महीने की छुट्टी काटने के लिए घर आ रहा था। संदीप जब दो फरवरी को दिल्ली से जनशताब्दी रेलगाड़ी में कीरतपुर साहिब वापस आ रहा था, तो वह गलती से ऊना (हिमाचल प्रदेश) पहुंच गया, जहां पर वह प्लेटफार्म पर अचानक चक्कर आने से गिर गया और उसके सिर में गंभीर चोट लग गई। इसके बाद ऊना रेलवे पुलिस ने उसे गंभीर घायल हालत में सरकारी अस्पताल ऊना दाखिल करवाया । वहां से डॉक्टरों ने उसकी हालत को गंभीर देखते हुए पीजीआइ चंडीगढ़ रेफर कर दिया। वहां से उसे चंडी मंदिर कमांड अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने इलाज के दौरान आखिरी सांस ली। शुक्रवार को जब उसका पार्थिव शरीर गांव सरथली लाया गया, तो पारिवारिक सदस्यों और गांव में मातम का माहौल छा गया। सैनिक संदीप सिंह के पिता प्यारा सिंह ने बताया कि संदीप सिंह 26 फरवरी 2004 को भारतीय फौज की इंजीनियरिग रेजीमेंट में भर्ती हुआ था। वह विवाहित था और उसका एक पुत्र भी है। अंतिम संस्कार मौके सरपंच विजय कुमार सरथली, सरपंच गुरमीत सिंह मोठापुर, सरपंच महिदर सिंह टिब्बा नंगल, सोहन सिंह, हरभजन सिंह, मंगत राम, भाग सिंह व कश्मीर सिंह आदि ने उसे श्रद्धांजलि भेंट की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!