जागरण संवाददाता, पटियाला

बिहार के मुज्जफरपुर में शेल्टर होम कांड के मुख्य आरोपित बृजेश ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बुधवार को भी नाभा जेल शिफ्ट में शिफ्ट नहीं किया जा सका। जेल सुपरिंटेंडेंट के मुताबिक अभी तक उनके पास कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को आदेश जारी किए थे कि आरोपित बृजेश को नाभा की मैक्सिमम हाई सिक्योरिटी जेल में ट्रांसफर किया जाए।

गौर हो कि हाई प्रोफाइल मैक्सिमम सिक्योरिटी जेल नाभा में 18 गैंगस्टर, 24 आतंकवादी जिसमें 22 अंडर ट्रायल और 2 सजायाफ्ता भी बंद हैं। नाभा जेल के जेल सुपरिंटेंडेंट इकबाल ¨सह ने बताया कि बृजेश के नाभा जेल लाने के अभी आर्डर उनके पास नहीं पहुंचे हैं। आरोपित के जेल पहुंचने पर ही कुछ फैसला किया जाएगा।

गौर हो कि नवंबर 2017 को हुए नाभा जेल ब्रेक कांड के बाद जेल में सुरक्षा और पुख्ता की गई है और जेल में बंद कैदियों को उनकी सख्त सजा के मुताबिक रखा जाता है। ऐसे में आरोपित बृजेश अगर नाभा जेल शिफ्ट होता है, तो उसके लिए अलग से प्रबंध करना होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!